2.5 C
London
Tuesday, February 27, 2024

श्वेता तिवारी को कोर्ट से मिला बड़ा झटका, अभिनव कोहली को मिली बेटे से मिलने की अनुमति

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

छोटे पर्दे की फेमस एक्ट्रेस श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) को हाल ही में अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. इसी बीच श्वेता को झटका देने वाली एक खबर सामने आई है. हाल ही में श्वेता के पति अभिनव कोहली को कोर्ट से राहत मिल गई है. दरअसल अब कोर्ट ने इनली अभिनव को अपने बेटे रेयांश से मिलने और बात करने की अनुमति दे दी है.

आपको बता दें कि काफी वक्त से अभिनव अपने बेटे मिल नहीं पा रहे थे.ऐसे में बेटे से मिलने की अनुमति मिलने से अभिनव कोहली काफी खुश हैं और उन्होंने इस अहम फैसले के लिए कोर्ट का आभार भी व्यक्त किया है.

कोर्ट से मिली अभिनव को राहत

आपको बता दें कि अभिनव कोहली को राहत मुंबई उच्च न्यायालय ने दी है. अभिनव को राहत देते हुए कोर्ट ने साफ किया है कि वह सामान्य दिनों में आधे घंटे वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बात कर सकते हैं. वहीं वीकेंड पर 2 घंटे मिलने के लिए भी समय दिया है.

अभिनव कोहली ने दिसंबर महीने में पत्नी और एक्ट्रेस श्वेता तिवारी के खिलाफ कोर्ट में मामला दर्ज करवाया था. अभिनव ने आरोप लगाया था कि श्वेता उनके अपने बच्चे से मिलने नहीं देती हैं. इसके साथ ही उन्होंने अपने बेटे की कस्टडी भी मांगी थी. अभिनव ने उस वक्त ये भी कहा था कि उन्हें अपने बच्चे से मिलने दिया जाए.

कोर्ट ने अभिनव से क्या कहा

कोर्ट ने साफ कह दिया है कि वह रोज अपने बच्चे से आधा घंटा बात कर सकते हैं. कोर्ट ने यह भी कहा है कि दोनों अपने बेटे की कस्टडी के लिए फैमिली कोर्ट में लड़ सकते हैं. इतना ही नहीं कोर्ट ने कहा है कि हमारा विश्वास है कि कपल बेटे के लिए सही फर्ज निभाएगा. अभिनव ने भी इसके लिए हामी भरी है.

अभिनव ने कहा है कि यह मेरे लिए राहत की खबर है. बीते काफी वक्त से मैं इसलिए लड़ रहा था. अभिनव ने सहा है कि वह 11 महीने से अपने बेटे से नहीं मिल पाए हैं लेकिन अब मैं उससे मिल पाऊंगा. मैं इसे अपने शब्दों में बयां नहीं कर सकता. वह मेरे और श्वेता के बीच की लड़ाई जीता है. रेयांश को अपने पिता से मिलने का मौका मिलेगा.

- Advertisement -spot_imgspot_img

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here