मुंबई: महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। लंबी पूछताछ के बाद ईडी ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। इस एक गिरफ्तारी ने महाराष्ट्र की राजनीति में सियासी भूचाल ला दिया है। बीजेपी नवाब मलिक के इस्तीफे की मांग कर रही है. सूत्रों के मुताबिक नवाब मलिक पर दाऊद इब्राहिम के सहयोगियों के साथ लैंड डील्स में शामिल होने का आरोप है। नवाब मलिक की गिरफ्तारी से उद्धव सरकार की मुश्किलें बढ़ गई है। शाम के साढ़े छ: बजे सीएम ठाकरे और एनसीपी प्रमुख शरद पवार के मुलाकात करेंगे।

बता दें कि ईडी द्वारा नवाब मलिक पर कई गंभीर आरोप लगाए गए हैं। उनके अंडरवर्ल्ड से रिश्ते बताए गए हैं, बेनामी संपत्ति की बात सामने आई है और ये भी कहा गया है कि मलिक जांच में एजेंसी का सहयोग नहीं कर रहे हैं। इसलिए उन्हें गिरफ्तार करना पड़ा है। 

वहीं ईडी दफ्तर से बाहर आते हुए नवाब मलिक ने हाथ ऊपर हिलाते हुए अपने कार्यकर्ताओं से कहा- ‘हम जीतेंगे, झुकेंगे नहीं’। हालांकि ईडी अधिकारियों ने उन्हें मीडिया से बात करने का मौका नहीं दिया। नवाब मलिक ने ट्विटर पर लिखा लड़ेंगे, जीतेंगे और सबको एक्सपोस करेंगे! ‘ 

इससे पहले आज सुबह ईडी के के अधिकारियों की एक टीम उनके घर पहुंची और मुंबई अंडरवर्ल्ड से जुड़े मनी लॉंन्‍ड्रिंग के एक मामले में उनसे पूछताछ की थी। इसके बाद ईडी के अधिकारी आगे की पूछताछ के लिए उन्हें मुंबई स्थित अपने दफ्तर ले गई है। जिसके बाद ईडी ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। 

आपको बता दें कि ईडी ने 15 फरवरी को मुंबई में अंडरवर्ल्ड की गतिविधियों, संपत्ति की अवैध रूप से कथित खरीद-फरोख्त और हवाला लेनदेन के संबंध में छापेमारी की थी। ईडी ने 10 स्थानों पर छापेमारी की थी जिसमें 1993 के बम धमाके के मुख्य साजिशकर्ता दाऊद इब्राहिम की दिवंगत बहन हसीना पार्कर, भाई इकबाल कासकर और छोटा शकील के रिश्तेदार सलीम कुरैशी उर्फ सलीम फ्रूट के परिसर शमिल था।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment