9.2 C
London
Sunday, April 14, 2024

खाली पड़े बूथों को देख कर बोले आजम खान मोदी सरकार हिटलर से भी आगे निकल गई

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

यूपी की रामपुर लोकसभा उपचुनाव में वोट डालने आए सपा नेता आजम खान बूथों को खाली देख कर भड़क गए। उन्होंने कहा कि आतंक के साए में वोट डालने आया हूं। बीजेपी हिटलर से आगे निकल गई है। पुलिस प्रशासन द्वारा हमारे लोगों को वोट डालने नहीं दिया जा रहा है’। पुलिस की पचास गाड़ियां खड़ी हैं, पुलिस अधिकारी खड़े हैं, वो वोटर्स को रोक रहे हैं। मोहल्ले की सड़कों पर वोटर्स खड़े हैं और उसके नाके पर पुलिस खड़ी है।

जब आजम खान से पूछा गया कि चुनाव किस तरफ जा रहा है? इस पर आजम ने कहा, ‘चुनाव ही कहां हो रहा है, जाएगा किस तरफ, ये चुनाव होता है? यह तो हिटलर ने भी नहीं किया होगा. आपको दिख रहा है कि ये निष्पक्ष चुनाव हो रहा है?

आजम खान ने कहा, ‘अंधे हैं हम दिख ही कहां रहा है। न आपको दिख रहा है, न आपके कैमरे को दिख रहा है। हम तो अंधे हैं। आप देख नहीं रहे हैं सारे बूथ खाली पड़े हैं, कोई वोट डालने वाला ही नहीं है।’

खान ने कहा कि आप जरा जाकर देखिए कि पुलिस थानों में कितने लोग बंद हैं। कितनी महिलाएं बंद हैं। ऐसा पहली बार है कि महिलाएं बंद हैं। लोगों को मारा गया है। टोपी वाले को तो छोड़ा ही नहीं गया। उन्होंने कहा कि मुर्गी, बकरी, भैंस, किताब डकैती में हम बंद हैं, हम अपनी कहां शिकायत लेकर जाएंगे। मंत्री रहते हम और हमारी पत्नी-बच्चे ने शराब की दुकान लूटी है। 16900 रुपए गल्ले से लूटा है। हम कैसे विरोध कर सकते हैं। हमें कहां से अधिकार हो गया विरोध करने का।

सपा नेता ने मीडिया से कहा कि हम आपके सामने खड़े हैं, आप हमको हिंदुस्तानी मान लें, यही हमारा सौभाग्य होगा। जब आजम खान से पूछा गया कि क्या इस शिकायत को लेकर चुनाव आयोग जाएंगे। इस पर आजम ने कहा कि क्या चुनाव आयोग जाकर क्या करेंगे। हिंदुस्तान में ऐसी कौन सी संस्था है, जो स्वतंत्र है। उन्होंने कहा कि मैं सच कह रहा हूं, यह आरोप नहीं है, अगर आरोप लगाऊंगा तो आरोप का मुकदमा कायम हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कम से कम मीडिया तो सच बोले। मीडिया भी सच नहीं बोलती, इसलिए लोगों का मीडिया से भरोसा उठ गया।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here