राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) पर कई आरोप लगाए हैं जिसकी वजह से समीर वानखेड़े का पूरा परिवार सफाई देने के लिए टीवी पर आए दिन इंटरव्यू कर रहा है. हाल ही में नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े पर नया आरोप लगाते हुए उनका कथित ‘निकाहनामा’ (मुस्लिम विवाह प्रमाणपत्र) शेयर किया, जिसके एक दिन बाद उनकी पत्नी और बहन ने सभी आरोपों को खारिज किया. समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर वानखेड़े ने कहा कि निकाहनामा सही है. निकाह हुआ लेकिन समीर ने कानूनी तौर पर अपना धर्म, जाति नहीं बदली. यह सिर्फ एक औपचारिकता थी क्योंकि मेरी सास मुस्लिम थीं और उनकी खुशी के लिए निकाह हुआ. नवाब मलिक द्वारा साझा किया गया जन्म प्रमाण पत्र गलत है.
नवाब मलिक (Nawab Malik) ने समीर दाऊद वानखेड़े की डॉ शबाना कुरैशी के साथ पहली शादी के ‘निकाहनामा’ और  शादी की तस्वीर पोस्ट की, जो अंधेरी पश्चिम में लोखंडवाला कॉम्प्लेक्स में 7 दिसंबर, 2006 को रात 8 बजे हुई थी. नवाब मलिक (Nawab Malik) ने कहा, ‘मेहर’ की रकम 33,000 रुपये थी, इस निकाह में दूसरा गवाह अजीज खान था, जो समीर दाऊद वानखेड़े की बहन यास्मीन दाऊद वानखेड़े का पति था. उन्होंने दोहराया कि समीर दाऊद वानखेड़े के बारे में खुलासे उनके धर्म के बारे में नहीं थे.’

बता दें कि समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) के पिता, पत्नी और बहन ने इस आरोप का जोरदार खंडन किया है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) अब सभी दस्तावेजों को जांच और आवश्यक कार्रवाई के लिए जाति सत्यापन समिति को भेजने की योजना बना रहे हैं. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के खिलाफ जंग जारी रखते हुए, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के मंत्री नवाब मलिक ने बुधवार को वानखेड़े पर अंतरराष्ट्रीय ड्रग माफिया के साथ कथित संबंधों का आरोप लगाया और इस मामले में जांच की मांग की है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment