11.1 C
London
Thursday, February 29, 2024

‘हिजाब आइकन गर्ल’ मुस्कान को सलमान खान और आमिर खान देंगे 5 करोड़ रुपए, जानिए पूरी सच्चाई

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

देश भर में इन दिनों हिजाब का मुद्दा गर्माया हुआ है। अब इस मुद्दे में तमाम बॉलीवुड सेलेब्स भी अपना नजरिया और राय पेश कर रहे हैं। इसी बीच इस मामले में सुपरस्टार सलमान खान और आमिर खान का नाम भी जुड़ गया और दावा किया जाने लगा कि सलमान और आमिर ने उस लड़की को 5 करोड़ के नकद पुरस्कार की घोषणा की है, जो “अल्लाह हू अकबर” का नारा लगाते हुए कैमरे में कैद हुई थी।

यूट्यूब पर ऐसे कई वीडियो हैं जिनमें दावा किया गया है कि सलमान खान वीडियो में दिख रही लड़की मुस्कान खान को राशि देने के लिए आगे आए हैं। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर कुछ ऐसे पोस्ट हैं जहां लोग दावा कर रहे हैं कि सलमान ने लड़की को करोड़ों में भुगतान किया है और करेंगे, जो अब हिजाब समर्थकों का चेहरा बन गई है।

हालांकि, इन दावों में कोई सच्चाई नहीं है। सलमान खान ने इस विवाद को संबोधित नहीं किया है और ना ही इस मामले पर कोई बयान जारी नहीं किया है।

पूरे हिजाब विवाद पर अभिनेता ने अभी तक किसी भी प्रकार को कोई रिएक्शन नहीं दिया है। कई यूट्यूब चैनलों और ट्वीट्स ने यह भी कहा है कि तुर्की सरकार ने भी लड़की के लिए 5 करोड़ रुपये के इनाम की घोषणा की है।

लेकिन, फैक्टएली की एक रिपोर्ट के अनुसार, विदेश मंत्रालय की वेबसाइट या तुर्की गणराज्य या दिल्ली में तुर्की के दूतावास की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। ये सभी फेक रिपोर्ट्स और ट्विट्स है जिन्हें बतौर प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा है।



अभी तक हिजाब मामले में जावेद अख्तर, कंगना रनौत, सोनम कपूर से लेकर जीशान अय्यूब और स्वरा भास्कर तक तमाम सेलेब्स अपनी राय पेश कर चुके हैं.

दरअसल इस पूरे मामले की शुरुआत 31 दिसम्बर से शुरू हुई। कर्नाटक के उडुपी में स्कूल-कॉलेजों में हिजाब पहनने को लेकर शुरू हुआ विवाद अब बढ़ता जा रहा है। यह विवाद अब कोर्ट तक पहुंच चुका है। इसकी शुरुआत पिछले साल 31 दिसंबर को हुई थी जब उडुपी के सरकारी पीयू कॉलेज में हिजाब पहन कर आई 6 स्टूडेंट्स को क्लास में एंट्री करने से रोक दिया गया था। इस घटना ने तूल पकड़ा और फिर कॉलेज के बाहर प्रदर्शन भी हुआ था।


कर्नाटक सरकार द्वारा सभी स्कूलों और कॉलेजों में एक ड्रेस कोड अनिवार्य करने का आदेश जारी करने के बाद विवाद शुरू हो गया था। इसमें “समानता, अखंडता और सार्वजनिक कानून और व्यवस्था को परेशान करने वाले” कपड़ों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। जबकि शैक्षणिक संस्थानों में हिजाब की अनुमति देने के विवाद ने सभी का ध्यान खींचा। देश भर में इस मुद्दे को लेकर बहस छिड़ी हुई है।

वहीं सोशल मीडिया पर मौहाल तब गर्मा जया जब हिजाब पहने छात्रा के पीछे भगवा स्कार्फ वाले लड़कों ने धार्मिक नारे लगाए और फिर बुर्खा पहने लड़की ने अल्ला हू अखबर का नारा लगाया।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here