19.1 C
Delhi
Thursday, February 2, 2023
No menu items!

रूस ने ब्रिटेन को दी ‘धमकी’! कहा- ‘क्रीमिया के पास फिर दिखा ब्रिटिश जंगी जहाज, तो तुरंत…

- Advertisement -
- Advertisement -

ब्रिटेन और रूस के बीच लगातार तनाव (Britain-Russia Tensions) बढ़ता जा रहा है. एक वरिष्ठ रूसी सुरक्षा अधिकारी ने बुधवार को ब्रिटेन (Britain) को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर ब्रिटिश जंगी जहाज क्रीमिया (Crimea) के पास दिखाई दिए तो इसके नाविकों को जख्मी कर दिया जाएगा. ब्रिटेन को ये चेतावनी रूस की सुरक्षा परिषद के उप सचिव मिखाइल पोपोव (Mikhail Popov) ने दी है. जून में ब्रिटिश जंगी जहाज HMS डिफेंडर (HMS Defender) क्रीमिया के नजदीक पहुंच गया था. इसे लेकर रूस ने सीधे तौर पर ब्रिटेन को चेतावनी दे दी थी.

हालांकि, लंदन का कहना था कि इसे क्रीमिया के पास यूक्रेनी क्षेत्रीय जल में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त नेविगेशन नियमों की स्वतंत्रता है. रूस ने 2014 में क्रीमिया को यूक्रेन से अलग कर लिया था. रूस ने कहा कि इसके आसपास का पानी अब मॉस्को के नियंत्रण में आता है. लेकिन अधिकांश देशों ने प्रायद्वीप को यूक्रेनी क्षेत्र के रूप में मान्यता देना जारी रखा है. रूस ने क्रीमिया के नजदीक ब्रिटिश जंगी जहाज के पहुंचने पर अपना विरोध दर्ज कराया. यहां तक की रूसी कोस्टगार्ड जहाज ने चेतावनी वाली गोलीबारी की और ब्रिटिश राजदूत को इस मामले पर सफाई देने के लिए समन भेजा गया.

बोरिस जॉनसन और डॉमिनिक रॉब की आलोचना की

- Advertisement -

मिखाइल पोपोव ने राज्य के रॉसियस्काया गजेटा अखबार को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि ब्रिटेन का व्यवहार और क्रीमिया में हुई घटना पर उसकी बाद की प्रतिक्रिया काफी हैरानी भरी थी. उन्होंने ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) और विदेश मंत्री डॉमिनिक रॉब (Dominic Raab) के उस सलाह की आलोचना की, जिसमें दोनों नेताओं ने कहा कि ऐसी घटना फिर से दोहराई जा सकती है. इससे पहले, रूस के उप विदेश मंत्री सर्गेई रयबाकोव (Sergei Rybakov) ने भी ब्रिटेन को ऐसी ही चेतावनी दी थी.

रूसी सेना की क्षमता को देखकर उकसावे वाली कार्रवाई का कोई मतलब नहीं

पोपोव ने कहा, हमारे जलक्षेत्र में उल्लंघन करने वालों की राज्य निष्ठा की परवाह किए बिना रूस ऐसी हरकतों को लेकर उन पर भविष्य में कठोर कार्रवाई करेगा. हमारा सुझाव है कि हमारे विरोधी इस बारे में गंभीरता से सोचें कि क्या रूस के सशस्त्र बलों की क्षमता को देखते हुए इस तरह की हरकतें करने का कोई मतलब है. उन्होंने कहा कि जिन जहाजों और जंगी बेड़ों के जरिए उकसावे वाली कार्रवाई की जा रही है, उस पर ब्रिटिश सरकार के सदस्य मौजूद नहीं है. और इस संदर्भ में मैं बोरिस जॉनसन और डॉमिनिक रॉब से एक सवाल पूछना चाहता हूं कि क्या वे ब्रिटिश नाविकों के परिवारों को क्या कहेंगे, जो यहां जवाबी कार्रवाई में घायल हो जाएंगे?

- Advertisement -
Jamil Khan
Jamil Khan
Jamil Khan is a journalist,Sub editor at Reportlook.com, he's also one of the founder member Daily Digital newspaper reportlook
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here