राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े संगठन मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने यूपी चुनाव के मद्देनजर मुस्लिम उलेमाओं के साथ बैठक की और भाजपा के लिए समर्थन मांगा। इस दौरान मंच ने हाल में उत्तराखंड की धर्म संसद में की गई टिप्पणी पर मुस्लिम समाज की चिंता पर कहा, जो भी टिप्पणी की गई वह किसी सभ्य समाज के लिए उचित नहीं है।

मंच के 10 सदस्यों ने अमरोहा, मुरादाबाद और रामपुर में प्रचार किया। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय संयोजक मोहम्मद अख्तर और उत्तराखंड मदरसा बोर्ड के चेयरमैन आदि शामिल थे। मोहम्मद अख्तर ने स्पष्ट किया कि न तो सरकार और न ही संघ का ऐसी किसी धर्म संसद से कोई लेना देना है। उन्होंने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ऐसे लोगों का समर्थन नहीं करता और ऐसी टिप्पणी की कड़ी निंदा करता है। उन्होंने मुस्लिम समाज और महिलाओं के लिए मोदी सरकार के कामकाज तारीफ की।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment