नई दिल्ली, 11 मार्च: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड पर बड़ी कार्रवाई की है। जिसके तहत अब पेटीएम बैंक नए ग्राहकों को नहीं जोड़ पाएगा।

अपने आदेश में आरबीआई ने कहा कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक आईटी सिस्टम का व्यापक सिस्टम ऑडिट करने के लिए एक आईटी ऑडिट फर्म नियुक्त करे। ये रोक कब तक के लिए है, इस पर आरबीआई ने कुछ नहीं कहा है।

केंद्रीय बैंक ने कहा कि जब आईटी ऑडिट फर्म उसके सिस्टम की पूरी समीक्षा कर लेगी , तो उसकी रिपोर्ट के आधार पर ही वो आगे का फैसला लेंगे। तब तक पेटीएम पेमेंट्स बैंक किसी नए ग्राहक को नहीं जोड़ेगा। इसके अलावा आरबीआई ने ये भी साफ किया कि पुराने ग्राहकों पर इस फैसले का कोई असर नहीं पड़ेगा, वो नियमानुसार काम करते रहें।

IT ऑडिट का क्या है मतलब?

आईटी ऑडिट का मतलब है कि एक टीम पेटीएम पेमेंट्स बैंक के सिस्टम की जांच करेगी। साथ ही ये पता लगाने की कोशिश करेगी कि उनका सिस्टम या सॉफ्टवेयर कितने ग्राहकों का बोझ उठाने में सक्षम है। इसके अलावा उसमें क्या-क्या दिक्कत आ रही है। अगर कंपनी ऑडिट में फेल हुई, तो उस पर ये रोक बरकरार रहेगी।

स्मॉल फाइनेंस बैंक का प्लान

सूत्रों के मुताबिक पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने स्मॉल फाइनेंस बैंक शुरू करने का प्लान बनाया है। अगर सब कुछ सही रहा तो कंपनी इस साल जून तक केंद्रीय बैंक के पास लाइसेंस के लिए अप्लाई करेगी। नियमों के मुताबिक कोई पेमेंट बैंक तब ही स्मॉल फाइनेंस बैंक के लाइसेंस के लिए अप्लाई कर सकता है, जब उसके पांच साल पूरे हो जाएं। मई तक पेटीएम इस क्राइटेरिया को पूरा कर लेगा।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment