बड़ी दिलचस्प बात है कि जिस मजहब के मानने वाले लोगों को लेकर भाजपाई अक्सर सोशल मीडिया पर उटपटांग भाषा का इस्तेमाल किया करते थे, आज उसी सुल्तान अंसारी के बचाव में भाजपा आईटी सेल से लेकर उनके सारे नेता उतर चुके हैं। सुल्तान अंसारी वही प्राॅपर्टी डीलर हैं जिनका नाम अयोध्या के श्रीराम जन्मभूमि घोटाले में सामने आया है।

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह ने सुल्तान अंसारी के बचाव में भाजपा समर्थकों के सामने आने पर तंज कसते हुए कहा है कि, “दुर्भाग्य तो देखिए अब भारतीय जनता पार्टी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और विश्व हिंदू परिषद की साख बचाने का जिम्मा प्राॅपर्टी डीलर सुल्तान अंसारी के कंधे पर आ गया है”

संजय सिंह ने आगे कहा- BJP का नारा है, सुल्तान अंसारी हमारा है। #चंदा_चोर_चम्पत

मालूम हो कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा मंदिर के पास 12 हजार 80 वर्ग मीटर की दो करोड़ रुपये कीमत वाली जमीन को 18 करोड़ रुपये में खरीदे जाने के मामला सामने आने के बाद से ही देश भर में चर्चाआंे का बाजार गर्म है।

इस मामले में सबसे ज्यादा सवाल जमीन की खरीदारी करने वाले ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय और इसकी बिक्री करने वाले मोहम्मद सुल्तान अंसारी पर खड़े हो रहे हैं।

सुल्तान अंसारी अयोध्या के नामी गिरामी प्राॅपर्टी डीलर हैं। वहीं चंपत राय के बारे में कहा जा रहा है कि राम जन्मभूमि के इर्द गिर्द जमीन खरीदने के फैसले वो अकेले ही करते है।

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने जो जमीन 18.5 करोड़ रुपये में खरीदी है, उसे बेचने वालों में सुल्तान अंसारी के साथ ही उनके पार्टनर रवि मोहन तिवारी का भी नाम शामिल है।

सुल्तान अंसारी ने मीडिया को बताया है कि 2011 में उन्होंने यह जमीन दो करोड़ रुपये में खरीदी थी। यह एकदम खरा सौदा है। इसमें कोई हेराफेरी जैसी बात नहीं है। अंसारी ने बताया कि ट्रस्ट को मार्केट से भी कम रेट में जमीन दी गई है। अंसारी के इस बयान के बाद से ही सोशल मीडिया पर भक्तों की टोली उनके समर्थन में उतर आई है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment