13.2 C
London
Wednesday, June 12, 2024

मुस्लिम महिलाओं पर भड़काऊ भाषण देने वाला रामभक्त गोपाल गिरफ्तार

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी (Jamia Millia Islamia University) के बाहर प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग करने वाले रामभक्त गोपाल (Ram Bhakt Gopal) को अब भड़काऊ भाषण देने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है. उसे हरियाणा के पटौती से पुलिस ने गिरफ्तार किया है. रामभक्त गोपाल ने पटौदी (Pataudi) में महापंचायत के दौरान भड़काऊ भाषण दिया था. इसके बाद गुरुग्राम (Gurugram) में उसके खिलाफ केस दर्ज किया गया था. 

दरअसल, हरियाणा के पटौदी में रामलीला ग्राउंड में 4 जुलाई को लव जिहाद (Love Jihad) और धर्मांतरण (Religious Conversion) को लेकर एक महापंचायत का आयोजन किया गया था. इसी महापंचायत में रामभक्त गोपाल ने भड़काऊ भाषण देते हुए कहा था पटौदी से उन आतंकवादियों और जिहादी मानसिकता के लोगों को चेतावनी देना चाहता हूं. गोपाल अगर CAA के समर्थन में 100 किलोमीटर जामिया जा सकता है तो पटौदी ज्यादा दूर नहीं है.

गोपाल का भड़काऊ भाषण सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था, जिसके बाद उसके खिलाफ केस दर्ज करने की मांग उठने लगी थी. बाद में हरियाणा पुलिस ने उसके खिलाफ FIR दर्ज की और सोमवार को उसे गिरफ्तार कर लिया गया. बताया जा रहा है कि जामिया के बाहर फायरिंग के वक्त गोपाल की उम्र 17 साल थी, इसलिए वो छूट गया था, लेकिन अब वो बालिग हो चुका है, इसलिए उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई हो सकती है.

जामिया में फायरिंग की बात मानी थी

भड़काऊ भाषण पर आजतक से बात करते हुए गोपाल ने कबूल किया था कि जामिया में उसने फायरिंग की थी. उसने कहा, ‘उस वक्त मैं सविंधान के हिसाब से नाबालिग था, मैं देश विरोधियों को संदेश देना चाहता था, इसलिए फायरिंग की, जेवर से पिस्टल लेकर गया था, जामिया में पुलिस पर हमला हो रहा था, शरजील जैसे राष्ट्र विरोधी हमला कर रहे थे.’

पटौदी में दिए गए भड़काऊ बयान पर गोपाल ने कहा था कि ‘मैं किसी सम्प्रदाय के खिलाफ नहीं हूं, लेकिन अब जिहाद और देश विरोधी मानसिकता के लोगों के खिलाफ हूं, झूठी दलील दी जा रही है कि मैंने भड़काऊ बयान दिया, मैंने लव जिहाद और धर्मांतरण के खिलाफ बोला है, भड़काऊ बयान नहीं दिया है.’

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here