जैसलमेर. जबसे अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान ने 20 वर्ष के वनवास के बाद सत्ता में वापसी की है तब से पूरी दुनिया में तालिबान छाया हुआ है पूरे दिन मीडिया चैनल पर तालिबान को लेकर घंटो बहस की जाती है जिसका असर आम लोगों की जिंदगी में भी देखने को मिल रहा है. ऐसी ही एक घटना भारत–पाकिस्तान की अंतरराष्ट्रीय सरहद (Indo-pak border) पर स्थित संवेदनशील जिले जैसलमेर (Jaisalmer) में भी देखने को मिली है.

यहां चल रही क्रिकेट प्रतियोगिता में शामिल होने वाली एक टीम ने अपना नाम ही तालीबान क्रिकेट क्लब रख लिया. तालिबान नाम के चलते उन्होंने अपने क्लब का नाम तालिबान क्लब रखा बताया जा रहा है. इस टीम ने इस नाम के साथ ही क्रिकेट प्रतियोगिता में एंट्री की कोशिश की. लेकिन बाद में आयोजकों को पता चलने पर उन्होंने टीम को बाहर कर दिया.

जानकारी के अनुसार जैसलमेर जिले के जैसुराना गांव मरहूम अध्यक्ष अलाद्दीन खान स्मृति में क्रिकेट प्रतियोगिता का 22 अगस्त से आयोजन किया जा रहा है. इसमें 10 टीमें खेल रही हैं. जब आयोजकों को इसका पता चला तो उन्होंने उस टीम को बर्खास्त कर दिया.

ऑनलाइन खेल ऐप के माध्यम से हुई टीम की एंट्री
आयोजकों का कहना है कि क्रिकेट प्रतियोगिता में सभी टीम की एंट्री ऑनलाइन खेल ऐप के माध्यम से की गई थी. उसके बाद पता चला कि एक टीम का नाम तालिबान क्लब रखा गया है. हालाकि भारत में तालिबान विरोधी सोच होने की वजह से इस टीम को प्रतियोगिता से बाहर कर दिया गया है.

आपसी भाईचारे के लिए होती है क्रिकेट प्रतियोगिता
आयोजक इस्माइल खान ने कहा कि हमारी ओर से आपसी भाईचारे को बढ़ावा देने के लिए प्रतिवर्ष इस क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है. इस तरह के विवादास्पद नाम रखने से माहौल खराब न हो इसलिए तुरंत कार्रवाई करते हुए जिस टीम ने अपना नाम तालिबान रखा था उसको बाहर कर दिया गया और भविष्य के लिए भी बर्खास्त कर दिया गया है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment