16.4 C
London
Thursday, June 13, 2024

राजस्थान: कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने भाजपा नेता कैलाश मेघवाल के कपड़े फाड़े

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

राजस्थान के श्री गंगानगर में केंद्र सरकार की ओर से लाए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने यहां भाजपा नेता कैलाश मेघवाल के कपड़े फाड़ दिए। मेघवाल यहां महंगाई और सिचाईं के मुद्दे पर भाजपा की ओर से किए जा रहे एक प्रदर्शन में शामिल होने आए थे, जब उनके साथ यह घटना हुई। 

बीजेपी कार्यकर्ता और SC मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कैलाश मेघवाल के कपड़े फाड़े जाने से चारो तरफ अफरा-तफरी का माहौल हो गया. किसानों से मेघवाल को छुड़ाने के लिए पुलिस ने लाठियां भी चलाईं.

पुलिस की लाठी चार्ज में कुछ किसानों को चोट लगी. घटना श्रीगंगानगर जिला कलेक्ट्रेट के महाराजा गंगा सिंह चौक रोड की है. पुलिस ने इलाके में चौकसी बढ़ा दी है.

पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बता दें कि बीजेपी श्रीगंगानगर में राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ कई जनहित के मुद्दों को लेकर प्रदर्शन कर रही है. बीजेपी का प्रदर्शन सेंट्रल जेल के पास चल रहा है. वहीं केंद्र के तीन कृषि कानून के खिलाफ महाराजा गंगा सिंह चौक पर किसान प्रदर्शन कर रहे हैं. बीजेपी के प्रदर्शन में शामिल होने के लिए मेघवाल पहुंचे थे. तभी किसानों को इस बात की खबर लगी और वह बीजेपी के धरनास्थल की ओर बढ़ने लगे. इसी बीच उन्होंने मेघवाल के कपड़े फाड़ दिए. दोनों पक्षों में हुई इस भिड़ंत को शांत करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया.

इस हफ्ते यह दूसरी बार है जब किसानों ने किसी बीजेपी नेता के कपड़े फाड़े हैं. हाल ही में दिल्ली-जयपुर हाईवे पर प्रदर्शन कर रहे किसानों ने BJP नेता प्रेम सिंह बाजौर के कपड़े फाड़े थे.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here