जयपुर. राजस्थान में विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आम आदमी पार्टी ने गुरुवार को जयपुर में अपने प्रदेश मुख्यालय भवन की शुरुआत की. लेकिन इस मौके पर हुआ सुंदरकांड का पाठ और हवन विवादों (Controversy over religious rituals held in AAP Rajasthan office) में आ गया है. राजनीतिक गलियारों में इसे आम आदमी पार्टी के सॉफ्ट हिंदुत्व के रूप में देखा जा रहा है, लेकिन इसका पार्टी में अपनों ने ही विरोध कर दिया.

दरअसल नए प्रदेश कार्यालय भवन की शुरुआत के मौके पर करीब 4 घंटे तक पूजा-पाठ और हवन का आयोजन कराया गया. इस दौरान पंडितों ने सुंदरकांड का पाठ भी किया और हवन में आहुतियां भी डलवाई. जिसमें खुद प्रदेश चुनाव प्रभारी और विधायक विनय मिश्रा सहित सैकड़ों आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता और नेता शामिल हुए. हिंदू रीति रिवाज से धार्मिक अनुष्ठान का पूरा कार्यक्रम हुआ. लेकिन इस दौरान पार्टी से ही जुड़े कुछ मुस्लिम कार्यकर्ताओं ने मीडिया के सामने पार्टी के इस कदम की आलोचना करते हुए कई सवाल खड़े कर दिए.


आम आदमी पार्टी से जुड़े इन कार्यकर्ताओं ने कहा कि संविधान कहता है सब धर्म समान हैं तो एक धर्म को बराबर सम्मान क्यों नहीं दिया गया. उन्होंने यह भी कहा कि यह धार्मिक कार्यक्रम नहीं था. लेकिन पार्टी कार्यालय के इस कार्यक्रम को धार्मिक बना दिया गया. उनके अनुसार यदि धार्मिक कार्यक्रम बता कर हमें इनवाइट किया जाता तो हम आते क्योंकि हमें किसी धर्म से कोई आपत्ति नहीं थी, लेकिन राजनीतिक पार्टी के कार्यालय से जुड़े कार्यक्रम को ही धार्मिक बना दिया गया.

विरोध करने वाले इन कार्यकर्ताओं ने कहा कि हमारी इस मामले में एक बैठक हुई थी, जिसमें 4 लोगों को यहां भेजा गया है. उनका कहना था कि आम आदमी पार्टी के सभी व्हाट्सएप ग्रुप में यही चर्चा चल रही थी. क्योंकि जिस तरह एक राजनीतिक दल का पार्टी कार्यालय का उद्घाटन होता है तो उसे धार्मिक बनाकर एक धर्म विशेष तक सीमित क्यों किया गया. उनका यह भी कहना था कि यह आम आदमी पार्टी से शुरुआत से जुड़े हैं, लेकिन अब उनके इस बयान से हो सकता है उन्हें पार्टी से निकाल दिया जाए जिसके लिए वे तैयार हैं.

धार्मिक चश्मे से ना देखें,हम हनुमान के हैं भक्त
आम आदमी पार्टी के राजस्थान चुनाव प्रभारी विनय मिश्रा से जब यह सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा की इस कार्यक्रम को धार्मिक चश्मे से ना देखा जाए. हम कोई भी कार्यक्रम का आयोजन करते हैं तो उसमें धार्मिक अनुष्ठान कर आते हैं और हम ऐसे भी हनुमान के भक्त हैं. इसलिए यह कार्यक्रम कराया. उन्होंने कहा कि हमने अजमेर दरगाह में चादर भी चढ़वाई है और गुरुद्वारों में लड्डू भी बंटवाए हैं.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment