नई दिल्ली: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) गुरुवार को दो दिवसीय दौरे पर रूस पहुंचे. इमरान खान का रूस दौरा अब चर्चा में बना हुआ है. इस दौरे की सबसे खास बात यह रही कि जिस दिन पाक पीएम ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) से मुलाकात की उसी दिन उन्होंने यूक्रेन पर हमला बोल दिया.

पुतिन और इमरान खान के बीच की मुलाकात (Imran Khan Vladimir Putin Meeting) सुर्खियों में हैं और उनके मुलाकात के दौरान रखी टेबल भी सोशल मीडिया (Imran Khan Putin Meet Table Viral) में जमकर सुर्खियां बटोर रही है. मुलाकात के दौरान रखी छोटी टेबल को लेकर लोग अपनी अलग अलग प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

दरअसल जब कुछ दिन पहले फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों (Emmanuel Macron) रूस आए थे तो उनसे मुलाकात के दौरान पुतिन ने बीच में काफी बड़ी टेबल रखी थी. उस समय भी टेबल ने सोशल मीडिया में जमकर सुर्खियां बटोरी थीं. लोगों ने उस असमान्य लंबाई वाली टेबल को रूस और फ्रांस के रिश्तों में बढ़ती दूरी से जोड़कर देखा था.

अब जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पुतिन से मिलने रूस पहुंचे है तो एक बार फिर टेबल चर्चा पर बनी हुई है. सोशल मीडिया में लोग छोटी टेबल को लेकर खूब लिख रहे हैं. लोगों का कहना है कि छोटी टेबल इस बात का संकेत है कि रूस और पाकिस्तान करीब आ रहे हैं.

पुतिन और इमरान खान की मुलाकात की फोटो को शेयर करते हुए एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि रूस पाकिस्तान को कितना महत्व देता है ये अब साबित हो गया है.

वहीं भारतीय पत्रकार यूसुफ उंझवाला ने भी टेबल के साइज को लेकर प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने मुलाकात का वीडियो क्लिप शेयर करते हुए लिखा कि पुतिन ने मैक्रों के साथ बातचीत में जिस टेबल का प्रयोग किया था अब उसे बदल दिया गया.

वहीं वेदांत नाम के यूजर ने पुतिन की हाल ही में दुनिया के दूसरे बड़े नेताओं के साथ मुलाकात की तस्वीर शेयर की. पुतिन ने दूसरे नेताओं के साथ मुलाकात में जिस टेबल का प्रयोग किया था उसे इमरान खान के साथ मुलाकात के दौरान हटा दिया गया. पाक पीएम से मिलते समय पतिन ने बेहद छोटी टेबल का प्रयोग किया. वेदांत ने लिखा कि रूसी राष्ट्रपति पुतिन की तरफ से साफ संकेत दिया गया है.

आपको बता दें कि पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान की यह पहली आधिकारिक यात्रा थी. पिछले दो दशक में इमरान खान पहले ऐसे पाक प्रधानमंत्री हैं जो रूस के दौरे पर गए हैं. पाकिस्तान के हमेशा अमेरिका से करीबी रिश्ते रहे हैं लेकिन अब हालात में बदलाव हुआ है और अमेरिका पाकिस्तान के बीच दूरियां बढ़ी हैं. विश्व राजनीति के जानकार मानते हैं कि इमरान खान का रूसी दौरा बदलते वैश्विक समीकरण के संकेत हैं.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment