14.1 C
London
Friday, May 31, 2024

कर्नाटक में प्राइवेट यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर ने मुस्लिम छात्र को बोला आतंकी, युनिवर्सिटी ने निकाला बाहर

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर का मुस्लिम छात्र को आतंकवादी बोलना भारी पड़ गया है. यूनिवर्सिटी ने अपनी तरफ से कार्रवाई करते हुए उस प्रोफेसर को सस्पेंड कर दिया है. इस घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है जिसमें नाराज छात्र बीच लेक्चर अपने उस प्रोफेसर पर सवालों की बौछार कर रहा है.

इस बात पर नाराजगी जाहिर कर रहा है कि किस आधार पर उसे सभी छात्रों के सामने आतंकवादी कहा गया. ये घटना 26 नवंबर की बताई जा रही है.

प्रोफेसर और छात्र के बीच जो बातचीत हुई थी, वो कुछ इस प्रकार की थी-

प्रोफेसर– तुम तो मेरे बच्चे जैसे हो

छात्र- नहीं, कोई पिता अपने बेटे के लिए ऐसे शब्दों का इस्तेमाल नहीं करता. ये कोई मजाक नहीं है. एक मुस्लिम होने के नाते हर बार ऐसे ताने सुनने पड़ते हैं. ये बिल्कुल भी फनी नहीं है

प्रोफेसर- अरे तुम तो मेरे बच्चे जैसे हो

छात्र- क्या आप अपने बेटे से भी ऐसे बात करते हैं. क्या आप उसे किसी आतंकवादी के नाम से बुलाएंगे. आप मुझे इतने सारे लोगों के सामने कैसे बोल सकते हैं. आप एक प्रोफेसर हैं, आप इस प्रकार की भाषा का इस्तेमाल नहीं कर सकते.

प्रोफेसर– मैं माफी चाहूंगा

छात्र– माफी मांगने से आपकी धारणा नहीं बदल जाएगीअभी के लिए इस मामले में पुलिस के पास कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई गई है. ऐसे में कोई कानूनी कार्रवाई नहीं हो रही है. लेकिन यूनिवर्सिटी ने खुद ही मामले का संज्ञान लेते हुए प्रोफेसर को सस्पेंड कर दिया है. उनकी तरफ से अपने स्तर पर जांच कमेटी भी बैठा दी गई है जो इस मामले की जांच कर रही है. अभी तक ये साफ नहीं है कि किस वजह से प्रोफेसर ने छात्र को आतंकवादी बोला, किस मुद्दे पर दोनों के बीच में बहस हुई थी. ये भी जानकारी नहीं मिली है कि इस वीडियो को शूट किसने किया.

कॉलेज ने क्या कहा विवाद पर?

यूनिवर्सिटी के पब्लिक रिलेशन के डायरेक्टर ने आजतक से बात करते हुए कहा है कि हम इस प्रकार की हर घटना की आलोचना करते हैं. हम अपनी यूनिवर्सिटी में सर्व धर्मा में विश्वास रखते हैं. इस मामले में उचित कार्रवाई की जाएगी. छात्र को काउंसलिंग भी दी जाएगी. जब तक छात्र द्वारा कोई FIR दर्ज नहीं कर दी जाती, कोई कानूनी कार्रवाई संभव नहीं है, लेकिन यूनिवर्सिटी ने अपने स्तर पर जांच शुरू कर दी है. हमारी तरफ से प्रोफेसर को भी सस्पेंड कर दिया गया है. बातचीत में डायरेक्टर ने इस बात को स्वीकार किया है कि प्रोफेसर और छात्र के बीच हुए पूरे वार्तलाप को ट्रेस करना मुश्किल है. इसी वजह से खुद संज्ञान लेते हुए प्रोफेसर को सस्पेंड किया गया है.

छात्र की प्रतिक्रिया सामने आई

इस पूरे विवाद पर उस छात्र की प्रतिक्रिया भी सामने आ गई है. उस प्रतिक्रिया में छात्र ने कहा है कि आप सभी ने एक वीडियो देखी होगी. प्रोफेसर की तरफ से मुझे कसाब कहकर संबोधित किया गया था, जो देश का सबसे बड़ा आतंकवादी था. वो एक मजाक था, लेकिन इस आधार पर किसी इंसान को इस प्रकार से बोलना ठीक नहीं. लेकिन मेरी बाद में प्रोफेसर से बात हुई थी, मुझे समझ आ गया कि उन्होंने सही मायनों में मुझ से माफी मांग ली थी. हमे भी इसे गलती मानकर भूल जाना चाहिए. जिन्हें हम अपना आदर्श मानते हैं, उनकी तरफ से इस प्रकार का बयान आया था. लेकिन इसे नजरअंदाज किया जा सकता है. मुश्किल समय में मेरे साथ खड़े रहने के लिए शुक्रिया.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Ahsan Ali
Ahsan Ali
Journalist, Media Person Editor-in-Chief Of Reportlook full time journalism.

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img