भरतपुर. राजस्थान में धर्म और आस्था का केंद्र श्री गोवर्धन के प्रति प्रबल आस्था के चलते दूर-दूर के राज्यों से लोग यहां परिक्रमा करने आते हैं। इसी बीच यहां से एक शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है।

जहां गोवर्धन परिक्रमा करने आई एक नाबालिग बच्ची के साथ एक मंदिर में पुजारी ने दुष्कर्म करने जैसे घिनौने काम को अंजाम दिया।

हैवान पुजारी ने मंदिर में किया शर्मनाक काम
दरअसल, पीड़िता पंजाब से अपने परिजनों के साथ परिक्रमा करने करने के लिए आई हुई थी। इसी दौरान परिक्रमा मार्ग में डीग क्षेत्र के पूंछरी में स्थित एक मंदिर के पुजारी ने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद बच्ची ने मंदिर परिसर में ही सो रहे अपने परिजनों को घटना की शिकायत की, जिस पर परिजनों ने आरोपी पुजारी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया।

पंजाब से परिक्रमा करने आई थी बच्ची
डीग सदर थाना प्रभारी गणपत ने बताया कि पंजाब के जालंधर निवासी एक नाबालिग बालक और बालिका अपने माता-पिता के साथ 4 अप्रैल 2022 की रात गोवर्धन की परिक्रमा करने आए। परिक्रमा के दौरान वो डीग क्षेत्र के पूंछरी स्थित एक मंदिर में रात्रि विश्राम के लिए रुक गए। 

रातभर परिजनों के सोने का इंतजार करता रहा हैवान
रात को दोनों नाबालिग बालक और बालिका अपने माता पिता के साथ मंदिर परिसर में ही सो रहे थे। इसी दौरान मथुरा निवासी मंदिर का आरोपी पुजारी संदलनाथ पुत्र घनश्याम आया और बालक बालिकाओं को मंदिर की छत पर सोने के लिए ले गया। पुजारी खुद कुर्सी डालकर छत पर ही बैठ गया और दोनों बच्चों के सोने का इंतजार करता रहा। जब दोनों नाबालिग सो गए तो पुजारी ने बालिका को पकड़ लिया और उसके साथ जबरन मुंह दबाकर दुष्कर्म किया।

पीड़िता परजिनों को सुनाई पुजारी की करतूत
पुजारी की गिरफ्त से छूटते ही नाबालिग बालिका छत से नीचे आई और रो तो है अपने परिजनों से आपबीती बताई। परिजन सुबह डीग सदर थाना पहुंचे और आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराया। मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने जांच कर बुधवार सुबह आरोपी पुजारी को गिरफ्तार कर लिया।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment