Corona वैक्सीन सर्टिफिकेट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो वापिस लगेगी, जाने वजह

हैल्थ केयरCorona वैक्सीन सर्टिफिकेट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो वापिस लगेगी, जाने वजह

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव संपन्न होने के साथ ही केंद्र सरकार इन राज्यों में कोविड-19 टीकाकरण प्रमाणपत्रों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर का प्रकाशन फिर से शुरू करने की योजना बना रही है.

चुनाव की तारीखों की घोषणा और आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद आठ जनवरी को पांच राज्यों उत्तर प्रदेश, गोवा, उत्तराखंड, पंजाब और मणिपुर में टीकाकरण प्रमाणपत्रों से मोदी की तस्वीर हटा दी गई थी.

एक आधिकारिक सूत्र ने बताया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने इन राज्यों में कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्रों पर प्रधानमंत्री की तस्वीर की छपाई को सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर फिर से शुरू करने की इच्छा जताई है.

को-विन एप में होंगे बदलाव

सूत्र ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘इन पांच राज्यों में लोगों को दिए जा रहे कोविड-19 प्रमाणपत्रों में प्रधानमंत्री की तस्वीर को शामिल करने के लिए को-विन मंच पर आवश्यक बदलाव किए जाएंगे.’

एक करोड़ से अधिक बच्चों को वैक्सीन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने शुक्रवार को कहा कि अब तक 12-14 आयुवर्ग के एक करोड़ से अधिक बच्चों को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है. इस आयु वर्ग के लाभार्थियों का टीकाकरण 16 मार्च को शुरू हुआ था. इन्हें कॉर्बेवैक्स टीका लगाया जा रहा है, जिसकी दो खुराक 28 दिनों के अंतराल पर दी जानी होती हैं.

देश में पिछले साल एक मार्च तक 12 और 13 साल के बच्चों की संख्या 4.7 करोड़ थी. मंडाविया ने ट्वीट किया,”12-14 आयु वर्ग के एक करोड़ से अधिक बच्चे कोविड वैक्सीन की पहली खुराक ले चुके हैं. टीका लगवाने वाले मेरे सभी युवा योद्धाओं को बधाई। इस गति को जारी रखें!’ देश में अब तक कोविड-19 रोधी टीके की कुल 182.55 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles