बांग्लादेश में करोड़ों की संख्या में सड़कों पर उतरे लोग, भारतीय प्रोडक्ट्स के बहिष्कार का आह्वान

व्यापारबांग्लादेश में करोड़ों की संख्या में सड़कों पर उतरे लोग, भारतीय प्रोडक्ट्स के बहिष्कार का आह्वान

कई राजनीतिक दलों और इस्लामी आंदोलन बांग्लादेश (IAB), जमीयत उलमा-ए-इस्लाम बांग्लादेश और इस्लामी ओइक्याजोते के इस्लामिक संगठनों ने शुक्रवार दोपहर को नमाज के बाद देश भर में भाजपा नेताओं द्वारा पैगंबर मोहम्मद सल्लाहू अलैहि वसल्लम पर टिप्पणी के खिलाफ प्रदर्शन किया गया.

इंडियन प्रोडक्ट्स का बहिष्कार

करोड़ों की संख्या में सड़कों पर निकले मुसलमानों और इस्लामिक संगठनों ने सभी से भारतीय उत्पादों का बहिष्कार करने का भी आह्वान किया. पाकिस्तान समर्थक राजनीतिक दलों ने भी प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों ने कहा कि IAB प्रमुख और चारमोनई पीर, सैयद रेजाउल करीम अगले सामूहिक जुलूस का नेतृत्व करेंगे.

नूपुर शर्मा को सजा की मांग

न्यूज़ वेबसाइट DNA की खबर के अनुसार, तुल मुकर्रम में राष्ट्रीय मस्जिद के दक्षिणी गेट पर विरोध प्रदर्शन में IAB नेताओं ने कहा कि वे ढाका में भारतीय उच्चायोग की ओर एक सामूहिक जुलूस निकालेंगे और एक ज्ञापन सौंपेंगे यदि पैगंबर पर टिप्पणी करने वालों को सजा नहीं मिली तो वह विरोध जारी रखेंगे. उन्होंने भाजपा नेताओं की टिप्पणी की निंदा करते हुए संसद में विरोध प्रस्ताव लाने की भी मांग की.

100 से ज्यादा समूह सड़क पर 

इस्लामिक संगठनों के सौ से अधिक समूहों और उनके करोड़ों सदस्यों ने देश भर में प्रदर्शन किया, जिसमें नबीनगर-चंद्र राजमार्ग को अवरुद्ध करना भी शामिल था. चटगांव में, इस्लामवादियों ने चौकबाजार, एंडरकिला, हथजारी और अन्य क्षेत्रों में एक विरोध रैली का आयोजन किया. 

बांग्लादेश में हर जगह हो रहा विरोध 

वहीं नारायणगंज में ‘नारायणगंज उलेमा परिषद’ के बैनर तले प्रदर्शनकारियों ने शहर में डीआईटी रेलवे मस्जिद परिसर में जुलूस निकाला. प्रदर्शन में वक्ताओं ने सरकार से राजनयिक कदम उठाने और टिप्पणी की निंदा करने का आह्वान किया. पबना, मानिकगंज और खुलना से भी विरोध प्रदर्शन की खबरें हैं.

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles