पाकिस्तान के कराची में दुनिया का सबसे लंबा और भारी विमान एंटोनोव एएन-225 मारिया (Antonov An-225 Mriya) लैंड हुआ है. जिसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. वीडियो को देख लोग हैरानी भी जता रहे हैं. एएन-225 बुधवार को कराची एयरपोर्ट पर उतरा था. रूस में बने इस विशाल विमान में छह टर्बो ईंजन लगे हुए हैं और इसे दुनिया में अब तक बने विमानों में सबसे लंबा और भारी भी कहा जाता है.

एंटोनोव एएन-225 मारिया ने अफगानिस्तान से उड़ान भरी थी और दोपहर के समय जिन्नाह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (Jinnah International Airport) पर उतरा. करीब 6,40,000 टन वजन वाले इस विमान के पंख काफी बड़े हैं. इतने बड़े पंख किसी भी अन्य संचालित विमान के नहीं हैं. एयरपोर्ट से जुड़े सूत्रों का कहना है कि एंटोनोव एएन-225 मारिया को गुरुवार सुबह कराची से उड़ान भरनी थी. इस समय अफगानिस्तान से विदेशी सैनिकों की वापसी हो रही है, इसी तैयारी के तहत विमान को काम पर लगाया गया है.

यूक्रेन के कीव से भरी थी उड़ान

एयरपोर्ट से जुड़े सूत्रों का कहना है कि विमान में सैन्य सामान था, जिसे युद्धग्रस्त देश अफगानिस्तान से वापस ले जाया जा रहा है. यहां से अमेरिका और अन्य सहयोगी देशों के सैनिकों की वापसी हो रही है. जिसके चलते सैन्य सामान ले जाया जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स में ऐसा कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण बीते साल इसकी उड़ान को रोक दिया गया था (World’s Longest and Heaviest Plane in Pakistan). फिर बाद में इसने यूक्रेन की राजधानी कीव के गोस्‍तोमेल एंटोनोव एयरपोर्ट से उड़ान भरी. जिसके बाद यह अफगानिस्तान पहुंचा.

घरों के ऊपर उड़ता दिखा विमान

वहीं सोशल मीडिया पर वायरल वीडिया को देख लोग तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं. वीडियो में विमान को कराची के घरों के ठीक ऊपर से उड़ान भरते हुए देखा जा सकता है (World’s Longest Plane). इस विशाल विमान का इस्तेमाल ज्यादातर सैन्य सामान को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए किया जाता है. इसके पंखों का आकारा 88.4 मीटर तक है, जबकि ऊंचाई करीब 18.2 मीटर बताई जाती है. विमान में इतना सामान फिट हो सकता है कि उसे उतारने में कई घंटों तक का समय लग जाता है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment