[email protected]

पाकिस्तानी कोच रमीज राजा का ऐलान अगर वर्ल्ड कप में भारत को हरा दिया, तो खिलाड़ियों को मिलेगा ब्लैंक चेक

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष रमीज राजा (Ramiz Raja) ने बताया कि एक बड़े निवेशक ने उनसे कहा है कि अगर पाकिस्तान आगामी टी20 वर्ल्ड कप में भारत को हराने मे कामयाब होता है तो पीसीबी के लिए एक ब्लैंक चेक तैयार है. उन्होंने साथ ही कहा कि न्यूजीलैंड और इंग्लैंड ने पाकिस्तान का दौरा इसलिए रद्द किया क्योंकि पीसीबी आर्थिक तौर पर मजबूत नहीं है.

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली. खेल कोई भी हो, लेकिन जब भारत और पाकिस्तान की टीमें आमने-सामने होती हैं तो भावनाओं का ज्वार चरम पर होता है. फिर क्रिकेट का मैदान हो तो फैंस बेसब्री से इस दिन का इंतजार करते हैं. अब क्रिकेट प्रेमियों का यही इंतजार खत्म होने वाला है. आगामी टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में 24 अक्टूबर कोभारत और पाकिस्तान की टीमें भिड़ेंगी. इसका रोमांच किसी खिताबी जंग से कम नहीं होगा.

दोनों चिर-प्रतिद्वंद्वी टीम जब भी आमने-सामने होती हैं तो मैच जीतने के लिए खिलाड़ी भी जीत के लिए कड़ी मेहनत करते हैं. अब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के नवनियुक्त अध्यक्ष रमीज राजा (Ramiz Raja) ने कहा है कि यदि उनकी टीम वर्ल्ड कप में भारत को हरा देती है तो वह ब्लैंक चेक सौंपेंगे. रमीज ने कहा है कि पाकिस्तान के एक बड़े व्यापारी ने उनसे यह वादा किया है.

वर्ल्ड कप में दोनों टीमों का 12 बार सामना हुआ है. इस दौरान दोनों टीमें 7 बार वनडे वर्ल्ड कप में तो वहीं 5 बार टी20 वर्ल्ड कप में एक दूसरे के खिलाफ खेली हैं. दिलचस्प है कि वर्ल्ड कप में आज तक भारत को पाकिस्तान हरा नहीं पाया है.

रमीज राजा ने इंटर प्रोविन्शियल कोऑर्डिनेशन (IPC) की सीनेट स्थाई समिति की बैठक में कहा, ‘एक बड़े निवेशक ने मुझसे कहा है कि पीसीबी के लिए एक ब्लैंक चेक तैयार है. अगर पाकिस्तान आगामी टी20 वर्ल्ड कप में भारत को हराने मे कामयाब होता है तो वह चेक देंगे.’ रमीज ने साथ ही कहा कि न्यूजीलैंड और इंग्लैंड टीमों ने पाकिस्तान के खिलाफ इसलिए ऐन मौके पर सीरीज रद्द की क्योंकि पीसीबी आर्थिक तौर पर मजबूत नहीं है. उन्होंने कहा, ‘यदि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड आर्थिक तौर पर मजबूत होता तो न्यूजीलैंड और इंग्लैंड टीम हमारे दौरे को इस तरह नहीं छोड़ती.’

रमीज राजा ने आगे कहा, ‘पीसीबी 50 प्रतिशत आईसीसी की फंडिंग से चलता है. वहीं, आईसीसी को 90 प्रतिशत फंड भारत से मिलता है. मुझे डर है कि अगर भारत आईसीसी को फंडिंग करना बंद कर दे तो पीसीबी पूरी तरह से खत्म हो सकता है. पीसीबी तो आईसीसी को ‘0’ फंडिंग करता है. मैं पीसीबी को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध हूं.’

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×