27.1 C
London
Tuesday, June 25, 2024

पेशी के दौरान उदयपुर मामले के आरोपियों पर भीड़ ने किया हमला

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या से जुड़े चार आरोपियों को आज जयपुर एनआईए कोर्ट में पेश किया गया। इस दौरान आरोपियों के ऊपर लोगों की भीड़ ने हमला बोल दिया। वहीं सुनवाई के बाद कोर्ट ने चारों आरोपियों को 12 जुलाई तक एनआईए की कस्टडी में भेज दिया है। अब दस दिन तक एनआईए की टीम चारों आरोपियों से कड़ी पूछताछ करेगी।  

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी ने चारों आरोपियों को जयपुर की एनआईए कोर्ट में किया था। इस कोर्ट का चार्ज सीबीआई कोर्ट क्रम एक के पास हैं। हत्यारों की सुरक्षा को देखते हुए कोर्ट में अतिरिक्त पुलिस बल भी तैनात किया था। कड़ी सुरक्षा के बीच एनआईए की टीम दोनों को कोर्ट में लगाई थी। इसके बाद कोर्ट के बाहर मौजूद लोगों ने हत्यारों की पिटाई लगा दी। बता दें कि कन्हैया की हत्या वाले दिन मंगलवार को ही पुलिस ने हत्यारे गौस मोहम्मद और रियाज अत्तारी को गिरफ्तार कर लिया था। 

इसके अलावा दो अन्य आरोपी मोहसीन और आसिफ को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया था। कोर्ट में पेशी के बाद उन्हें एक दिन की ट्रांजिट रिमांड पर भेजा गया था। आज शनिवार को चारों आरोपियों को एक साथ कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने चारों आरोपियों को दस दिन की रिमांड पर भेज दिया है। अब एनआईए की टीम चारों आरोपियों से 12 जुलाईतक पूछताछ करेगी। 

जानें क्या है मामला?
दरअसल, उदयपुर के धानमंडी इलाके के भूत महल क्षेत्र में रहने वाला कन्हैयालाल दर्जी था और यहां अपनी दुकान चलाता था। हाल ही में उसने कती थ तौर पर पैगम्बर मुहम्मद (peace be upon him) पर टिप्पणी करने वाली नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी जिसके बाद बीते मंगलवार को दो मुस्लिम युवक कपड़े का नाप देने के बहाने दर्जी की दुकान पर पहुंचे और उस पर धारदार हथियार से वार करना शुरू कर दिया। ताबड़तोड़ हमलों ने उसे संभलने का मौका तक नहीं दिया। उसकी गर्दन कट गई और मौके पर ही मौत हो गई थी। हमले में दुकान पर काम करने वाला उसका साथी ईश्वर सिंह भी गंभीर रूप से घायल हो गया था। शहर के एमबी अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here