11.4 C
London
Friday, May 17, 2024

Olympics Tokyo: सैमीफाइनल में रवि दहिया को कजाख्स्तिान के पहलवान ने दांत से काटा, देखें VIDEO

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

नई दिल्ली : लंदन ओलिम्पिक में सुशील कुमार के सिल्वर मैडल के बाद पहली बार कोई भारतीय रैसलर कुश्ती फाइनल में पहुंचा है। रवि दहिया ने कजाख्स्तिान के रैसलर नुरिस्लाम सनायेव को 57 किलोग्राम वर्ग में हराकर फाइनल के लिए क्वालीफाई किया। हालांकि मैच के दौरान रवि नुरिस्लाम के हमले का शिकार भी हुए। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही फोटोज में साफ देखा जा सकता है कि किस तरह नुरिस्लाम ने हार की बौखलाहट में रवि के बाजू पर दांतों से चिकौटी काटी थी। नुरिस्लाम की इस हरकत के कारण रवि के बाजू पर जख्म हो गया था। बावजूद इसके रवि ने मैच से अपनी पकड़ नहीं छोड़ी।

घटना उस वक्त हुई जब रवि 9-2 से आगे चल रहे थे। रवि लगातार हमले कर रहे थे जिससे कजाख्स्तिान के पहलवान परेशान हो गए। इसी आपाधापी में उन्होंने रवि की बाजू पर काट लिया। नुरिस्लाम के काटने से रवि चीखें मारते देखे गए।

 

बता दें कि रवि ने राऊंड 16 में कोलंबिया के ऑस्कर उरबानो के खिलाफ अपनी मुहिम की शुरूआत की थी। मैच में वह 13-2 से विजयी रहे। वहीं, बुल्गारिया के जॉर्जी वांगेलोव को उन्होंने 14-4 से हराकर सबको चौका दिया। इसके बाद सैमीफाइनल में वह नुरिस्लाम से भिड़े जिसमें उन्हें 9-7 से जीत मिली। अब फाइनल में उनका मुकाबला रशियन ओलिम्पिक कमेटी के प्लेयर  जौर रिजवानोविच उगुवे के साथ होगा। 

भारत के 5 ओलिम्पिक मैडलिस्ट
ब्रॉन्ज : 1952 में खाशाबा दादासाहेब जाधव
ब्रॉन्ज : 2008 में सुशील कुमार
सिल्वर : 2012 में सुशील कुमार
ब्रॉन्ज : 2012 में योगेश्वर दत्त
ब्रॉन्ज : 2016 में साक्षी मलिक

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here