20.1 C
Delhi
Saturday, December 3, 2022
No menu items!

जश्न से नहीं भरेंगे जख्म, कांग्रेस का PM मोदी से सवाल- 70 दिनों में कैसे दी जाएगी 106 करोड़ लोगों को खुराक

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना के खिलाफ जंग में भारत ने आज बड़ी जीत हासिल की। देश के 100 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन के टीके लगाए गए। इधर कांग्रेस ने मोदी सरकार के जश्न पर निशाना साधा। कांग्रेस ने देश में कोरोना रोधी टीकों की दी गई खुराक की संख्या के 100 करोड़ के पार होने के बाद कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार को यह जवाब देना चाहिए कि साल 2021 के खत्म होने में शेष बचे 70 दिनों के भीतर देश के सभी वयस्कों का पूर्ण टीकाकरण कैसे किया जाएगा।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह दावा भी किया कि जश्न मनाने से लोगों के जख्म नहीं भरने वाले हैं और इस सरकार अपने कोरोना कुप्रबंधन के कारण लाखों लोगों की जान जाने की जवाबदेही से नहीं बच सकती। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार को एक ‘कोरोना जांच आयोग’ का गठन करना चाहिए ताकि नरेंद्र मोदी सरकार की लापरवाही की जांच हो और मरने वालों का फिर से सर्वेक्षण कर पीड़ित परिवारों को उचित मुआवजा दिया जा सके। कांग्रेस महासचिव ने संवाददाताओं से कहा कि हम चिकित्सकों, नर्सों, पैरामेडिकल के कर्मचारियों, अस्पतालों का आभार प्रकट करते हैं। 100 करोड़ खुराक के लिए पूरा देश उनका कृतज्ञ है।

- Advertisement -

उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदीजी और उनकी सरकार एक बार फिर स्वांग कर खुद का पीठ थपथपाने में लगी हैं। मोदी सरकार जान ले कि जश्न मनाने से जख्म नहीं भरने वाले हैं। मोदी सरकार के निकम्मेपन और आपराधिक लापरवाही के कारण देशवासियों की जान जोखिम में डालने के लिए जवाबदेही का हिसाब मांगने का समय आ गया है।

उन्होंने कहा कि देश के 74 करोड़ वयस्क भारतीयों को 106 करोड़ खुराक कब तक दी जाएगी? देश में 103 करोड़ लोग वयस्क हैं। इनमें से 29 करोड़ लोगों को कोरोना रोधी टीकों की दोनों खुराक दी जा चुकी है। यानी 42 करोड़ लोगों को एक खुराक दी गई है। इसका मतलब यह है कि 32 करोड़ वयस्क ऐसे हैं जिन्हें आज तक एक भी खुराक नहीं दी गई। सुरजेवाला ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा था कि 31 दिसंबर, 2021 तक सब वयस्कों को दोनों खुराक दे दी जाएगी। अब 70 दिन बचे हैं। इसका मतलब यह है कि अभी रोजाना 1.51 करोड़ खुराक दी जानी चाहिए। लेकिन पिछले छह दिनों के रोजाना औसतन 39 लाख खुराक दी गई। हम जानना चाहते हैं कि 70 दिन में 106 करोड़ खुराक कैसे दी जाएगी? उन्होंने आरोप लगाया कि जब देश के लोग कोरोना से ग्रस्त थे, ऑक्सीजन के लिए बेहाल थे, जरूरी दवाओं के लिए लाखों रुपये लिये जा रहे थे, अस्पतालों में बिस्तर नहीं थे, ऐसे समय भाजपा सरकार ने देशवासियों को असहाय छोड़ दिया था। देश में कोविड-19 रोधी टीकों की अब तक दी गई खुराक का आंकड़ा गुरुवार को 100 करोड़ को पार कर गया। देश में टीकाकरण मुहिम की शुरुआत 16 जनवरी कोहुई थी।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here