11.2 C
London
Thursday, February 29, 2024

नवीन जिंदल का दावा ईमेल भेज कर बोल रहे है तेरी भी ‘गर्दन’ काटेंगे

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

उदयपुर में दर्जी के तौर पर काम करने वाले कन्हैया लाल की हत्या से देशभर में सनसनी है। इस बीच भाजपा से निष्कासित नेता नवीन कुमार जिंदल को भी कन्हैयालाल की तरह मारने की धमकी दी गई है। खुद नवीन कुमार जिंदल ने ट्वीट कर धमकी मिलने की जानकारी दी है। उन्होंने ट्वीट कर बताया कि आज सुबह ही मेल पर उन्हें धमकियां दी गई हैं। नूपुर शर्मा की ओर से पैगंबर मोहम्मद पर टिप्प्णी के समर्थन में नवीन कुमार जिंदल ने एक ट्वीट किया था। इसके चलते वह भी विवादों में घिर गए थे और भाजपा ने उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया था।

नवीन कुमार जिंदल ने ट्वीट किया है, ‘आज सुबह करीब पौने 7 बजे मुझे तीन ईमेल आए। इनमें कन्हैयालाल की हत्या के वीडियो भी अटैच थे। मुझे और मेरे परिवार को इसी तरह से मारने की धमकी दी गई है। मैंने पुलिस कंट्रोल रूम को जानकारी दे दी है। पूर्व दिल्ली के डीसीपी, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और पुलिस कमिश्नर को इस मामले का तत्काल संज्ञान लेना चाहिए।’ नवीन कुमार जिंदल को मिली धमकी ने चिंताओं को बढ़ा दिया है। खासतौर पर ऐसे वक्त में जब उदयपुर में जघन्य हत्याकांड को अंजाम दिया गया है, जिसके चलते पूरे देश में गम और गुस्से का माहौल है। 

नवीन कुमार जिंदल ने अपने ट्वीट के साथ ईमेल के स्क्रीनशॉर्ट भी शेयर किए हैं। इनमें से एक में लिखा गया है, ‘आतंकवादी नवीन कुमार, अब तुम्हारी बारी है। हम तुम्हारा गला बहुत जल्दी ही काटेंगे।’ पार्टी से निष्कासन के बाद से ही नवीन कुमार जिंदल कई बार अपनी जान को खतरा होने की बात कह चुके हैं। यही नहीं उन्होंने तो सुरक्षा के नजरिए से अपने परिवार को भी दिल्ली से बाहर भेज दिया है। बता दें कि कन्हैया लाल की हत्या के बाद से उदयपुर समेत पूरे राजस्थान में ही तनाव का माहौल बना हुआ है। सभी 33 जिलों में धारा 144 लगी हुई है। उदयपुर के कई थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा हुआ है। 

कन्हैया लाल की हत्या का है पाकिस्तान से लिंक

बता दें कि उदयपुर की घटना की जांच होम मिनिस्ट्री ने एनआईए को सौंप दी है। इस बीच कन्हैयालाल की हत्या का पाकिस्तान से भी लिंक सामने आया है। घटना को अंजाम देने वाले दो आरोपियों का कनेक्शन काराची बेस्ड सुन्नी इस्लामिक संगठन दावत-ए-इस्लामी से सामने आया है। इसका पाकिस्तान के संगठन तहरीक-ए-लब्बैक से भी है। जांच से जुड़े लोगों ने यह जानकारी दी है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khanhttps://reportlook.com/
journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here