चंडीगढ़: 

Punjab New Cabinet Expansion: पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी सरकार की सरकार को विस्तार हो गया है. 5 नए मंत्रियों को रविवार को शपथ दिलाई गई. कैबिनेट में 6 नए चेहरों को शामिल किया गया है. ये छह पिछली कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार में मंत्री नहीं थे. नौ मंत्री पिछली अमरिंदर सरकार में भी सरकार में शामिल थे. जिन मंत्रियों को शपथ दिलाई गई उनमें उसमें राणा गुरजीत सिंह का नाम भी शामिल है लेकिन उन्हें लेकर कुछ कांग्रेस विधायकों ने अपना विरोध जताया. 6 विधायकों ने प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को चिट्ठी लिखकर इनकी जगह किसी अनुसूचित जाति के विधायक को जगह देने की बात रखी थी. राणा गुरजीत सिंह कैप्टन अमरिंदर सरकार की पहली सरकार में मंत्री थे लेकिन अवैध खनन के आरोपों के बाद उन्हें 2018 में मंत्रिमंडल से हटा दिया गया था. गुरजीत सिंह पंजाब में सबसे अमीर विधायक हैं. इस कैबिनेट विस्तार में नवजोत सिंह सिद्धू के क़रीबी कुलजीत नागरा को हटा दिया गया है.

राजभवन में आयोजित एक समारोह में शपथ लेने वालों में ब्रह्म मोहिंद्रा, मनप्रीत सिंह बादल, तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, अरुणा चौधरी, सुखबिंदर सिंह सरकारिया और राणा गुरजीत सिंह शामिल थे. रजिया सुल्ताना, विजय इंदर सिंगला, भारत भूषण आशु, रणदीप सिंह नाभा, राजकुमार वेरका, संगत सिंह गिलजियां, परगट सिंह, अमरिंदर सिंह राजा वडिंग और गुरकीरत सिंह कोटली ने भी मंत्री पद की शपथ ली.Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. मुख्यमंत्री समेत कुल 18 विधायक मंत्रिपरिषद में शामिल हो सकते हैं. अमरिंदर सिंह के त्यागपत्र के बाद चन्नी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. उपमुख्यमंत्री चुने गए सुखजिंदर सिंह रंधावा और ओपी सोनी ने सोमवार को शपथ ली थी. 

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment