नयी दिल्‍ली : टोक्‍यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में गोल्‍ड मेडल जीतकर देश का गौरव बढ़ाने वाले एथलीट नीरज चोपड़ा भी स्वतंत्रता दिवस समारोह में शामिल हुए है. तेज बुखार के बाद भी वे ध्वजारोहण समारोह में पहुंचे और कहा कि पहली बार सामने से देश रहा हूं, अब तक केवल टीवी पर ही देखा है. नीरज चोपड़ा पहले ऐसे भारतीय एथलीट हैं, जिन्होंने ओलिंपिक में गोल्ड मेडल जीता है. उन्होंने भाला फेंक में गोल्ड जीता है.

शनिवार को समाचार एजेंसी एएनआई ने खबर दी थी कि नीरज चोपड़ा बीमार हैं. उन्हें तेज बुखार और गले में खराश की शिकायत थी. इसके बाद उन्होंने कोरोना जांच के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट कराया, लेकिन उनका रिपोर्ट निगेटिव आया था. इसके बाद इस एथलीट ने स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में शामिल होने का निर्णय लिया और तड़के सुबह लाल किला पहुंच गये

गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा के साथ-साथ टोक्यो ओलिंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले सभी खिलाड़ी और पदकवीर स्वतंत्रता दिवस समारोह के कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं. सभी खिलाड़ियों को आज 75वें स्वतंत्रता दिवस पर सम्मानित किया जायेगा. ओलिंपिक में भारत के गोल्ड जीतने पर पूरे देश में जश्न मना था. खुद पीएम मोदी ने खिलाड़ियों को बधाई दी थी.

नीरज चोपड़ा ने टोक्‍यो ओलिंपिक 2020 में पुरुषों के भाला फेंक प्रतियोगिता में 87.58 मीटर भाला फेंका था. उन्होंने दूसरे प्रयास में यह उपलब्ध हासिल की थी. कोई भी और खिलाड़ी उनकी बराबरी नहीं कर पाया और आखिरकार उन्होंने गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास बना दिया. ओलिंपिक इतिहास में भारत ने पहली बार एथलेटिक्स में गोल्ड मेडल जीता है.

स्वतंत्रता दिवस समारोह में शामिल होने के लिए होटल से निकलते हुए नीरज चोपड़ा ने एएनआई से कहा कि पहले हम इसे (झंडा फहराने की रस्म) टीवी पर देखते थे और अब हम खुद वहां जा रहे हैं. यह एक नया अनुभव है. हमने इतने लंबे समय तक व्यक्तिगत खेलों में स्वर्ण पदक नहीं जीता था. मुझे अच्छा लगा कि देश को मेरी वजह से गर्व महसूस हुआ.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Join the Conversation

3 Comments

Leave a comment