सहारनपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath ) के निर्देश का पालन करते हुए यूपी के सहारनपुर में अलविदा की नमाज मस्जिदों और ईदगाह में अदा की गई।

इसी बीच सहारनपुर के ही कोतवाली क्षेत्र के चौक फव्वारा स्थित ऐतिहासिक जामा मस्जिद में नमाज पढ़कर निकल रहे कुछ युवकों ने नारेबाजी शुरू कर दी, जिसके बाद कुछ समय के लिए वहां की स्थिति तनावपूर्ण हो गई। सूचना मिलते ही जिलाधिकारी अखिलेश कुमार और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर प्रशासनिक अधिकारियों और अतिरक्ति पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और नारेबाजी कर रहे युवकों को समझा बुझाकर वापस घर भेजा। 

मौलवी ने मीडियाकर्मियों पर लगाया भड़काऊ सवाल पूछने का आरोप 
जामा मस्जिद के प्रबंधक मौलवी फरीद ने बताया कि मस्जिद के बाहर खड़े कुछ मीडियाकर्मियों ने नमाज पढ़कर लौट रहे युवकों से भड़काऊ सवाल किए जिस पर युवक उत्तेजित होकर नारेबाजी करने लगे। करीब 20-25 मिनट तक स्थिति तनावपूर्ण रही और आला अफसरों के मौके पर पहुंचने पर स्थिति बिगड़ने से बच गई। दोनों पक्षों के लोगों ने धैर्य से काम लिया। चौक फव्वारा स्थित जामा मस्जिद सहारनपुर के मुख्य बाजार में स्थित है। नारेबाजी के दौरान दुकानदारों ने भी संयम से काम लिया। ना बाजार में भगदड़ मची और ना ही स्थिति बिगड़ी। ऐहतियात के तौर पर पूरे जिले में पुलिस सतर्कता बरत रही है और अधिकारी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

माहौल बिगाड़ने वालों पर होगी कानूनी कार्रवाई
इस घटना के बाद जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने भी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। गौरतलब है कि यह पहला मौका है। जब मुसलमानों ने सड़कों पर नमाज अदा नहीं की और सरकारी निर्देशों का पूरी तरह से पालन किया। एसएसपी आकाश तोमर ने बयान जारी कर कहा कि जिन लोगों ने स्थिति को बिगाड़ने का प्रयास किया है, उनको जवाब तलब कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जिले में शनिवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघ चालक मोहन भागवत और प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल का कार्यक्रम है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए अधिकारी विशेष चौकसी बरत रहे हैं।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment