कई देशों में चल रहे सर्च ऑपरेशन के बीच भारतीय जांच एजेंसियों (Indian Investigative Agencies) को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. भारतीय जांच एजेंसियों ने 1993 के मुंबई में हुए सीरियल ब्लास्ट (1993 Mumbai Blasts) में शामिल भारत के मोस्ट वांडेट आरोपी  को UAE से गिरफ्तार किया है.

जानकारी के मुताबिक पकड़े गए आरोपी का नाम अबु बक्र है जिसे बहुत जल्‍द UAE से भारत लाया जाएगा. बता दें कि 1993 में मुंबई में अलग-अलग जगहों पर 12 धमाके हुए थे, जिसमें 257 लोग मारे गए थे जबकि 713 लोग घायल हुए थे.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक पकड़े गए आरोपी का नाम अबू बकर है. जांच एजेंसी के मुताबिक अबू बकर ने पाकिस्‍तान में हथियारों और विस्‍फोटक तैयार करने का प्रशिक्षण लिया था और मुंबई में सिलसिलेवार विस्‍फोटों में इस्‍तेमाल किए गए आरडीएक्‍स को मुंबई में अलग-अलग जगहों पर लगाने का काम किया था. इस घटना को अंजाम देने की पूरी योजना दुबई में दाऊद इब्राहिम के आवास पर अंजाम दी गई थी. बता दें कि पिछले 29 साल से अबू बकर संयुक्‍त अरब अमीरात और पाकिस्‍तान में रह रहा था.

बता दें कि अबू बकर को साल 2019 में गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उस समय उसने कुछ दस्‍तावेज ऐसे पेश किए थे, जिसके बाद संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारियों को उसे छोड़ना पड़ा था. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारतीय एजेंसियां अबू ​​बकर के प्रत्यर्पण की प्रक्रिया में हैं. भारत की मोस्ट वांटेड सूची में शामिल होने के लगभग 29 साल बाद, अबू बकर को यूएई से वापस लाने के बाद आखिरकार भारत में कानून का सामना करना पड़ेगा.

मुंबई ब्‍लास्‍ट के वांटेड सलीम गाजी की हाल में हुई थी मौत

1993 के मोस्ट वांटेड सीरियल ब्लास्ट के आरोपी सलीम गाजी की कुछ दिन पहले ही कराची, पाकिस्तान में मौत हो गई. बता दें कि सलीम गाजी दाऊद गिरोह का सदस्य था और छोटा शकिल का करीबी माना जाता था. दाऊद से भी उसका खास रिश्ता था. मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक, सलीम पिछले कई दिनों से बीमार चल रहा था. उसे हाई ब्लड प्रेशर और दूसरी बीमारियां हो गई थीं. बताया जा रहा है कि शनिवार को दिल का दौरा पड़ने के कारण उसकी मौत हो गई.

मुंबई हमले के लिए पाकिस्‍तान में दी गई थी ट्रेनिंग

मुंबई सीरियल ब्लास्ट दाऊद इब्राहिम के इशारों पर अंजाम दिया गया था. कई करोड़ की संपत्ति का नुकसान हुआ था. धमाके से पहले जिन लोगों को चुना गया था, उन्हें ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान भेज दिया गया था. इस ब्लास में शामिल अबू सलेम और फारुख टकला जैसे लोगों को पकड़ा जा चुका है. वहीं, इन धमाकों का सबसे बड़ा मास्टर माइंड दाऊद इब्राहिम आज भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment