21.9 C
London
Tuesday, June 18, 2024

उदयपुर घटना के बाद पूरे राजस्थान में एक महीने के e धारा 144 लागू, इंटरनेट सेवाएं निलंबित

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

उदयपुर में मालदास गली इलाके में मंगलवार को दो युवकों ने नूपुर शर्मा का समर्थन करने वाले एक व्यक्ति का सिर काटने के बाद इलाके में भारी तनाव का माहौल है। हालात पर काबू पाने के लिए उदयपुर जिले में 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद करने के साथ ही पुलिस बल मौके पर तैनात कर दिया गया है। घटना पर रोष जताते हुए स्थानीय लोगों ने दुकानें बंद कर विरोध प्रदर्शन किया। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उदयपुर में हुए इस हत्याकांड पर कहा कि यह बहुत ही दुखद घटना है। यह कोई छोटी घटना नहीं है, जो हुआ वह किसी की कल्पना से परे है। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

राजस्थान में धारा 144 लागू 

उदयपुर में हुई घटना के बाद पूरे राजस्थान में धारा 144 लागू कर दी गई है। आदेश में कहा गया है कि राज्य के सभी जिलों में अगले एक महीने के लिए धारा 144 लागू रहेगी। वहीं, इंटरनेट सेवा 24 घंटे के लिए बंद कर दी गई है। 

राजस्थान में मोबाइल इंटरनेट सेवा 24 घंटे के लिए निलंबित 

राजस्थान में मोबाइल इंटरनेट सेवा 24 घंटे के लिए निलंबित की गई, सभी जिलों में एक महीने के लिये निषेधाज्ञा (सीआरपीसी की धारा 144) लगायी गई 
 

एनआईए की टीम उदयपुर के लिए रवाना 

सूत्रों का कहना है कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की एक टीम को राजस्थान के उदयपुर के लिए रवाना किया गया है

इलाके में लोगों ने पथराव 

कन्हैया लाल की हत्या के बाद इलाके में तनाव बढ़ गया है। घटना से करीब 500 मीटर की दूरी पर दो पक्षों में पथराव हो गया। खबरों की मानें तो पथराव में दो युवक घायल हो गए हैं। 

आरोपी रफीक मोहम्मद और अब्दुल जब्बार को हिरासत में 

उदयपुर जिले में हुई टेलर की नृशंस हत्या में कथित रूप से दोनों आरोपी रफीक मोहम्मद और अब्दुल जब्बार को हिरासत में ले लिया है। दोनों सूरजपोल के रहने वाले हैं

कन्हैयालाल का गला रेतने के आरोपी गिरफ्तार

राजस्थान पुलिस ने उदयपुर जिले में हुई टेलर की नृशंस हत्या में कथित रूप से दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस के अनुसार आरोपियों को राजसमंद जिले के भीम क्षेत्र से पकडा गया। राजसमंद पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने कहा कि दोनों आरोपी मोटरसाइकिल पर हेलमेट पहनकर भागने की कोशिश कर रहे थे लेकिन उन्हें भीम क्षेत्र में नाकेबंदी के दौरान पकड़ लिया गया। उन्होने कहा,''हमने आरोपियों की पहचान की पुष्टि की है। 10 टीम को आरोपियों की तलाश में लगाया था।'' राजसमंद उदयपुर जिले का पड़ोसी जिला है।

राजस्थान पुलिस की अपील-ना देखें वीडियो

राजस्थान के एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा, 'यह देखना बहुत ही भयानक है, मेरी सलाह है कि कृपया वीडियो न देखें। राजस्थान के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर हवा सिंह घुमरिया ने भी मीडिया से अत्यधिक भड़काऊ सामग्री के कारण वीडियो को प्रसारित नहीं करने के लिए कहा। 

राज्यपाल कलराज मिश्र ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की

राज भवन राजस्थान के ट्विटर हैंडल पर लिखा, 'उदयपुर में हुई घटना अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। माननीय राज्यपाल श्री कलराज मिश्र जी ने जनता से साम्प्रदायिक सौहार्द एवं शांति बनाए रखने की अपील की है तथा दोषियों के विरुद्ध सख़्त कार्यवाही करने के निर्देश ज़िला प्रशासन को दिए हैं।'

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा-क्रूर हत्या निंदनीय है

असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट किया, 'उदयपर में हुई क्रूर हत्या निंदनीय है। ऐसी हत्या को कोई डिफ़ेंड नहीं कर सकता। हमारी पार्टी का मुसलसल स्टैंड यही है के किसी को भी क़ानून को अपने हाथों में लेने का हक़ नहीं है। हमने हमेशा हिंसा का विरोध किया है। हमारी सरकार से माँग है के वो मुजरिमों के ख़िलाफ़ सख़्त से सख़्त एक्शन लें। विधि शासन को क़ायम रखना होगा।'
- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khanhttps://reportlook.com/
journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here