रामपुर डिस्ट्रिक कोर्ट ने तत्कालीन एसडीएम पी पी तिवारी के मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी का गेट तोड़ने संबंधी आदेश को बरकरार रखा है। इस मामले की सुनवाई 2 साल तक चली।
सपा सांसद आजम खान को रामपुर की डिस्ट्रिक्ट कोर्ट से आज एक और बड़ा झटका मिला है।

2019 में BJP नेता आकाश सक्सेना ने अपनी शिकायत में सपा नेता आजम खान की यूनिवर्सिटी के गेट को सरकारी जमीन पर होने की बात कही थी। इस मामले में एसडीएम कोर्ट ने जांच के बाद गेट तोड़ने के आदेश दिए थे। इसके खिलाफ सपा नेता आजम खान ने डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में अपील की थी। आज लगभग 2 साल बाद डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने सपा नेता आजम खान की अपील को खारिज कर दिया है।
कोर्ट के गेट तोड़ने के फैसले से नाराज़ टीपू सुल्तान पार्टी व मुस्लिम एक्टिविस्ट ने ट्रेंड #SaveJauharUnivercity चलाया है। ट्रेंड भारत में एक नंबर पर ट्रेंड कर रहा है।

टीपू सुल्तान पार्टी के राष्टीय अध्यक्ष प्रो• शेख सादिक साहब ने बीजेपी से सवाल किया कि “बीजेपी को मुसलमानों की शिक्षा से दिक्कत क्या है?

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment