मदरसों में छात्रों के साथ कुकर्म जैसी घटनाएं अब आम होती जा रही हैं. माता पिता अपने बच्चों को अच्छी तालीम के लिए मदरसों में भेजते हैं और वहां बच्चों के साथ कुकर्म कर सारी भावनाओं को तार तार कर देते हैं.

ताज़ा मामला मेरठ (Meerut) के मवाना कस्बे के दबथ उल इस्लाम का है जहा मुफ़्ती अब्दुल कलाम ने 11 साल के मदरसे में पढ़ने वाले छात्र के साथ कुकर्म किया है (Harassment of child at madarsa). इस मामले का खुलासा तब हुआ जब एक 11 साल बच्चा ईद की छुट्टी पर घर गया और सारी हरकतों के बारे में अपने पिता को बताया. पुलिस आरोपी अब्दुल कलाम की गिरफ्तारी नहीं कर पायी है.

पीड़ित बच्चा 7 महीने से मदरसे में तालीम ले रहा था

पुलिस पूछताछ में पता चला है कि मुफ्ती बाकी ऐसी हरकत करता है जिसकी जांच की जा रही है. पुलिस को ये जानकारी पीड़ित छात्र ने दी है जिसके पिता ने मुफ़्ती के खिलाफ तहरीर दी थी. जानकारी के मुताबिक मुफ़्ती रात में अलग अलग छात्र को कमरे में बुलाया करता था. पीड़ित बच्चा पिछले करीब 7 महीने से मदरसे में तालीम ले रहा था.

पुलिस की पकड़ से दूर है आरोपी मुफ़्ती

मवाना सीईओ उदय प्रताप ने बताया कि मदरसे में पढ़ने वाले पीड़ित बच्चे के पिता की तहरीर प्राप्त हुई है, जिसमें बताया गया है कि मुफ्ती ने बच्चे के साथ कुकर्म किया है जिसे आधार पर मुकदमा मुफ़्ती खिलाफ पोस्को एक्ट और आईपीसी की धारा में केस दर्ज कर लिया गया है. बच्चे का मेडिकल भी कराया गया है.बता दें कि आरोपी मुफ्ती अब्दुल कलाम पुलिस की पकड़ से अभी फरार है उसको पकड़ने के लिए टीमें लगाई गई हैं।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment