जहांगीरपुरी इलाके में शोभायात्रा के दौरान हुई सांप्रदायिक हिंसा के बाद उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने एक तरफा कार्यवाही करते हुए बुधवार को इलाके से समुदाय विशेष के निर्माण को हटाया। जिसे भारतीय मीडिया और पत्रकारों में काफी खुशी की लहर देखी गई जहांगीरपुरी में इस अभियान के बाद सत्ता पक्ष और विपक्षी दलों के नेताओं की बयानबाजी शुरू हो गई है। इस बीच भाजपा सांसद नरसिम्हा राव ने ट्वीट करते हुए जेसीबी को ‘जिहाद नियंत्रण बोर्ड’ कह दिया। उन्होंने कहा कि जेसीबी एक बुलडोजर को भी संदर्भित करता है।

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने दिल्ली में हिंसा प्रभावित जहांगीरपुरी इलाके में हुए अतिक्रमण पर बुलडोजर चलाने को लेकर भाजपा (BJP) और आम आदमी पार्टी (AAP) पर निशाना साधा है। ओवैसी ने जहांगीरपुरी में अतिक्रमण पर चले बुलडोजर को तुर्कमान गेट 2022 (Turkman Gate) करार दिया।

ओवैसी ने ट्वीट करते हुए कहा ‘तुर्कमान गेट 2022, इतिहास बताता है कि 1976 में सत्ता में बैठे लोग वर्तमान समय में अपनी ताकत गंवा बैठे हैं। बीजेपी और आम आदमी पार्टी को भी याद रखना चाहिए। शक्ति शाश्वत नहीं है।’ तुर्कमान गेट विध्यंस काफी चर्चित मामला था। जो कि कथित तौर पर राजनीतिक उत्पीड़न और झुग्गियों में रहने वालों के नरसंहार को लेकर चर्चा में आया था।

इस ट्वीट से पहले ओवैसी ने कहा कि बीजेपी ने गरीबों के खिलाफ युद्ध की घोषणा की है। उन्होंने अतिक्रमण अभियान में केजरीवाल की भूमिका को संदिग्ध बताने हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री पर भी निशाना साधा।

दिल्ली के जहांगीपुरी इलाके में जेसीबी द्वारा हटाए गया अवैध निर्माण सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद रोका गया लेकिन तब तक जेसीबी अपना कार्य कर चुकी थी। उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा जहांगीरपुरी इलाके में अवैध अतिक्रमण हटाया गया। इस अभियान के बाद सत्ता पक्ष और विपक्षी पार्टी के नेताओं ने बयानबाजी शुरू कर दी है। भाजपा सांसद नरसिम्हा राव ने अपने ट्वीट में जेसीबी की तस्वीर साझा की और जेसीबी की फुल फॉर्म जिहाद कंट्रोल बोर्ड करार दिया। साथ ही #बुलडोजरबाबा” भी लिखा है।

हालांकि बयान पर विवाद गहराने के बाद सांसद राव ने ट्वीट को डिलीट कर दिया है।

गौरतलब है कि बुधवार को कई जेसीबी मशीनों के साथ नगर निगम के अधिकारियों ने जहांगीरपुरी इलाकों में घुसकर दुकानों और घरों पर निर्माण को ध्वस्त कर दिया। इससे पहले कि सुप्रीम कोर्ट ने इस अभियान पर रोक लगाने के आदेश दे जेसीबी अपना काम कर चुकी थी। मामले की सुनवाई गुरुवार को भी होगी।

बता दें कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने मंगलवार को अतिक्रमण विरोधी अभियान की घोषणा की थी और इलाके में भारी पुलिस तैनाती का अनुरोध किया था। यह तब आया जब दिल्ली भाजपा प्रमुख आदेश गुप्ता ने कहा कि जहांगीरपुरी में शनिवार को सांप्रदायिक हिंसा के आरोपी ‘अवैध निर्माण’ में रह रहे थे और मांग की कि उन्हें ध्वस्त कर दिया जाए।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment