16.4 C
London
Saturday, May 18, 2024

 मौलाना तौकीर रजा की बहू निदा खान BJP में शामिल, पारिवारिक कलेश के दौरान किया था तीन तलाक कानून का समर्थन

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

लखनऊ, 30 जनवरी: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और बसपा को बड़ा झटका लगा है। इन पार्टियों के 21 बड़े नेता भाजपा में शामिल हुए हैं। बरेली के मौलाना तौकीर रजा की बहू निदा खान ने भी भाजपा का दामन थामा है। बीजेपी में शामिल होने के बाद निदा खान ने कहा कि मुस्लिम महिलाएं भाजपा के साथ हैं।

इत्तेहाद-ए-मिल्लत परिषद के प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खान की बहू निदा खान रविवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले लखनऊ में भाजपा में शामिल हो गईं। निदा खान ट्रिपल तलाक पीड़िता हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए निदा खान ने कहा, “मैं बीजेपी में शामिल हुई हूं, क्योंकि यह ट्रिपल तालक कानून लाया और सभी धर्मों की महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए काम किया।”

निदा खान के अलावा, यूपी के पूर्व मंत्री और सपा नेता शिवचरण प्रजापति और सपा, बसपा और कांग्रेस के कई अन्य नेता भाजपा में शामिल हो गए।

कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं तौकीर रजा

हजरत बरेली शरीफ के मौलाना तौकीर रजा खान अक्सर विवादों में रहते हैं। उन्होंने पहले बाटला हाउस एनकाउंटर में मारे गए आतंकियों को शहीद करार दे दिया था। फिर एक टीवी न्यूज एंकर को धमकी दी थी। इतना ही नहीं, उनकी बहू निदा खान ने खुद उनपर गंभीर आरोप लगाए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियों के लिए तौकीर रजा पर मामला दर्ज किया गया था। दो हफ्ते पहले ही तौकीर रजा कांग्रेस में शामिल हुए थे।

निदा खान कुछ समय पहले मीडिया से बातचीत में कहा था कि जब वह घर की बहू बनीं और उनके साथ अन्याय हुआ, तो तौकीर रजा ने आवाज नहीं उठाई। लेकिन, अब खुद को प्रियंका गांधी का बड़ा भाई बताकर उनके साथ खड़े रहने का दावा करते हैं। प्रियंका के ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ नारे का समर्थन करते हैं। निदा खान ने आरोप लगाया था कि वह अपनी घर की महिलाओं का उत्पीड़न करते हैं। पढ़ने वाली लड़कियों को कॉलेज से उठवा लेते हैं और फिर प्रियंका गांधी का भाई बनकर उनके संरक्षक बनने की बात करते हैं।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here