19.4 C
Delhi
Friday, December 2, 2022
No menu items!

हेमा मालिनी सहित कई ‘शीर्ष बीजेपी’ नेताओं की पंजाब की रैली रद्द, जानें आखिर क्या है खौफ  

- Advertisement -
- Advertisement -

चंडीगढ़. पंजाब के ग्रामीण इलाकों (rural areas of Punjab) में किसानों के साथ किसी तरह का विवाद न हो जाए, इससे भाजपा बचने की कोशिश कर रही है. बीते रविवार को भाजपा के स्टार प्रचारक (BJP’s star campaigners) मालवा के उन इलाकों से दूर रहे जहां किसान संघों का बोलबाला है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Haryana CM Manohar Lal Khattar) की 12 फरवरी को पंजाब के ग्रामीण इलाकों में होने वाली रैलियों को रद्द करने के बाद, अभिनेत्री-राजनेता हेमा मालिनी (actor-politician Hema Malini) का पूरा दौरा बिना किसी कारण बताए रद्द कर दिया गया. उन्हें अमृतसर पूर्व, अमृतसर पश्चिम और दोपहर बाद मौड़ में रैलियों को संबोधित करना था. यहां तक कि गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) के कार्यक्रम में भी अंतिम समय में फेरबदल किया गया.

हालांकि भाजपा का कहना है कि किसानों के विरोध के आह्वान का इन परिवर्तनों से कोई लेना-देना नहीं है, दूसरी ओर सुनाम और मौड़ मालवा के निर्वाचन क्षेत्रों के रूप में बाहर खड़े हैं, जहां यह कॉल भाजपा के संकट को बढ़ा सकता था. जब से चुनाव प्रचार शुरू हुआ है, भाजपा के स्टार प्रचारक मालवा क्षेत्र के भीतरी इलाकों से परहेज कर रहे हैं, जहां किसान संघों का बोलबाला है.

- Advertisement -

किसान संगठनों का विरोध प्रदर्शन की घोषणा

बीकेयू (डकौंडा) और बीकेयू (उग्रहां) ने अमित शाह के दौरे के खिलाफ सुनाम में विरोध प्रदर्शन की घोषणा की थी, लेकिन जमीनी स्तर पर व्यवस्था शुरू होने से बहुत पहले उस कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया था. बठिंडा जिले के बीकेयू (उग्रहां) के जिला समिति सदस्य जगसीर सिंह झुम्बा ने कहा कि हमने हेमा मालिनी की यात्रा के विरोध की घोषणा की थी. उन्होंने कहा कि वे शनिवार शाम तक व्यवस्था कर रहे थे और बाद पता चला कि शनिवार देर रात तक उनका कार्यक्रम रद्द कर दिया गया था. भाजपा के अन्य सभी शक्ति प्रदर्शन शहरी क्षेत्रों में रहे हैं जहां पिछले कई वर्षों से शिअद के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ते रहे हैं. अमित शाह की पटियाला अर्बन रैली पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के संसदीय क्षेत्र मालवा में थी. 17 फरवरी कोमालवा में पीएम की एकमात्र शारीरिक रैली अबोहर में होगी, जो 25 साल से अधिक समय से बीजेपी की सीट रही है.

मनोहर लाल खट्टर की रैली रद्द

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर को लुधियाना के जगराओं और गिल निर्वाचन क्षेत्रों में रैलियों को संबोधित करना था जो ग्रामीण थे और तीसरा कपूरथला में था, लेकिन कार्यक्रम रद्द कर दिया गया था. हालांकि भाजपा ने तकनीकी मुद्दों का हवाला दिया था, लेकिन बीकेयू (डकौंडा) के सदस्यों ने कहा था कि उन्होंने जगराओं में बड़े पैमाने पर विरोध की घोषणा की थी. कार्यक्रम रद्द होने के बाद उन्होंने दाना मंडी, जगराओं में एक विजय रैली भी आयोजित की थी. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी मालवा आईं, लेकिन 9 फरवरी को लुधियाना के शहरी इलाकों में फंस गईं थी. बीकेयू (डकौंडा) के सदस्यों का कहना है कि हम भाजपा उम्मीदवारों का ग्रामीण इलाकों में भी विरोध करते हैं जहां हमारी यूनियन मजबूत हैं. हम एनडीए सरकार के उदासीन रवैये के कारण कृषि कानूनों के खिलाफ संघर्ष को नहीं भूल सकते. भाजपा के सुरजीत सिंह ज्यानी को भी शनिवार को फाजिल्का गांवों में विरोध का सामना करना पड़ा था.

अन्य जगहों पर ताबड़तोड़ रैली

हालांकि, पार्टी अन्य क्षेत्रों में आक्रामक तरीके से प्रचार कर रही है. हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर ने 11 फरवरी को मालवा के खरड़ के अलावा दोआबा में जालंधर सेंट्रल और जालंधर नॉर्थ में रैलियों को संबोधित किया था, जबकि 10 फरवरी को उन्होंने मुकेरियां, दोआबा के गरशंकर और मालवा पंजाब के आनंदपुर साहिब और जीरकपुर में रैलियों को संबोधित किया. भाजपा सांसद मनोज तिवारी लुधियाना जिले के खन्ना और समराला के प्रवासी क्षेत्रों में तीन रैलियों को संबोधित करने आएंगे, जबकि तीसरी सोमवार को मोहाली में होगी. पीएम नरेंद्र मोदी आज 14 फरवरी को जालंधर और 16 फरवरी को पठानकोट भी आ रहे हैं.

- Advertisement -
Jamil Khan
Jamil Khan
Jamil Khan is a journalist,Sub editor at Reportlook.com, he's also one of the founder member Daily Digital newspaper reportlook
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here