20.6 C
London
Saturday, May 25, 2024

हनुमान मंदिर व RSS कार्यालय को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला गिरफ्तार

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

अलीगंज के बड़े हनुमान मंदिर और मनकामेश्वर मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी बृहस्पतिवार को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी शकील मूल रूप से दिल्ली का रहने वाला है। पुलिस को उसके पास से कई संदिग्ध किताबें और दस्तावेज मिले हैं।

एसीपी अलीगंज अखिलेश सिंह के मुताबिक 29 जुलाई को अलीगंज स्थित नए बड़े हनुमान मंदिर के पते पर रजिस्टर्ड डाक द्वारा एक चिट्ठी आई जिसमें शहर के कई बड़े मंदिरों और आरएसएस कार्यालय को उड़ाने की धमकी दी गई थी।

मंदिर प्रबंधन ने संयुक्त पुलिस आयुक्त अपराध नीलाब्जा चौधरी से इसकी शिकायत की। जेसीपी ने तत्काल इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच और अलीगंज पुलिस को सौंपी। बुधवार देर रात को अलीगंज पुलिस ने आरोपी को पुरनिया पुल के पास से गिरफ्तार किया। आरोपी शकील मूल रूप से दिल्ली का रहने वाला है । वह अलीगंज इलाके में किराए के मकान में रहता है।

सीसीटीवी फुटेज से आरोपी तक पहुंची पुलिस प्रभारी निरीक्षक अलीगंज पन्ने लाल यादव के मुताबिक चिट्ठी त्रिवेणी नगर उप डाकघर से भेजी गई थी। जिस पर पुलिस टीम ने आसपास के सीसीटीवी फुटेज को खंगालना शुरू किया। जिसके बाद संदिग्ध गतिविधि के आधार पर पुलिस ने फुटेज के आधार पर आरोपी की तलाश शुरू की। बुधवार रात शकील दबोच लिया गया।

शकील ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की लेकिन उसके घर में खाना बनाने वाले युवक ने सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद उल्टे शकील को फटकार लगानी शुरू कर दी। पुष्टि होने के बाद पुलिस ने घर की तलाशी ली। जहां से कई संदिग्ध दस्तावेज और किताबें मिले हैं । पुलिस शकील के नेटवर्क को खंगाल रही है।

पत्नी से चल रहा है तलाक का मुकदमा
प्रभारी निरीक्षक पन्ने लाल के मुताबिक, शकील अलीगंज से पहले खादरा इलाके के मक्का में रहता था। आज भी वहां उसकी पत्नी और दो बच्चे रहते हैं। पुलिस के मुताबिक शकील और उसकी पत्नी के बीच तलाक का मुकदमा चल रहा है। तलाक होने के बाद शकील खदरा से अलीगंज में आकर फ्लैट लेकर किराए पर रहने लगा।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here