मुंबई के क्रूज ड्रग्स केस मामलें में अब तक आर्यन खान, एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े और अनन्या पांडे का नाम सुर्खियों में बना हुआ है। लेकिन ड्रग्स केस में आर्यन खान समेत बाकी आरोपियों की जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने सनसनीखेज आरोप लगाया है।समीर वानखेड़े ने इस मामले में मुंबई पुलिस के बड़े अधिकारियों से मुलाकात कर इस बात का खुलासा किया है।समीर वानखेड़े ने अपनी शिकायत में बताया कि उनकी जासूसी की जा रही हैं और उन्हें इस मामले से हटाएं जाने का प्रयास किया जा रहा है।वहीं इस मामला काफी गंभीर मानते हुए है मुंबई पुलिस भी अधिक सक्रिय हो गई हैं।

आपको बता दें कि इस प्रकरण में हाल ही एनसीबी के डायरेक्ट समीर वानखेंडे पर रिश्वत मांगने का लगाया आरोप लगाया जा चुका है।एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर प्रभाकर सईल ने आरोप लगाया कि खाली कागज को पंचनामा बताकर उन्होने आर्यन खान से दस्तखत करायें थे।हालांकि एनीसीबी इस आरोप को खारिज कर दिया है।

समीर वानखेड़े की जासूसी का खुलासा—
एनसीबी डायरेक्ट समीर वानखेड़े ने 2 अक्टूबर को मुंबई में एक् क्रूज पर छापेमारी करके अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान समेत कुछ लोगों को हिरासत में लिया था, जिसके बाद आर्यन की गिरफ्तारी हुइ। एनसीबी का आरोप हैं आर्यन इंटरनेशनल ड्रग पैडलर से संपर्क में था और एनसीबी को उनके मोबाइल फोन से कुछ आपत्तिजनक चैट बरामद हुई हैं। जिसके बाद इस मामले पर काफी राजनीति भी देखने को मिली, समीर वानखेड़े का कहना है कि दो लोग सिविल ड्रेस में उनका पीछा कर रहे हैं।समीर वानखेड़े के अलावा एक और वरिष्ठ अधिकारी मुथा जैन ने भी इसकी शिकायत महाराष्ट्र पुलिस से की हैं।

समीर वानखेड़े का कहना है कि 11 अक्टूबर को जब वो ओशिवारा के कब्रिस्तान में अपनी मां की कब्र पर गए तो उन्हें लगा कि दो लोग उनका पीछा कर रहे है। उन्होंने इस इलाके की सीसीटीवी फुटेज भी निकलवाई है। उनका आरोप है कि इनमें से एक शख्स मुंबई पुलिस में ऊंचे ओहदे पर हैं। उनसे पहले एनसीपी नेता नवाब मलिक ने आरोप लगाया था और एनसीबी की इस रेड को फर्जी बताया था और सबूत के तौर पर कुछ वीडियोज भी सामने पेश किए थे।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment