13.2 C
London
Wednesday, May 22, 2024

बिहार के बेगूसराय में दर्ज हुआ क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी के खिलाफ मुकदमा

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

बिहार के बेगूसराय कोर्ट में एक परिवाद दायर किया गया है जिसमें भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को अभियुक्त बनाया गया है। इस केस में धोनी के अलावा 7 अन्य लोगों के नाम अभियुक्तों में शामिल हैं।

केस एक खाद विक्रेता ने दर्ज कराया है। मामला 30 लाख रुपये का चेक बाउंस हो जाने का है। केस सीजेएम की अदालत में दर्ज कराया गया है। सीजेएम ने यह केस एक अन्य कोर्ट में सुनवाई के लिए ट्रांसफर कर दिया है।

दायर परिवाद के मुताबिक वर्ष 2021 में डीएस इंटरप्राइजेज बेगूसराय नामक एजेंसी के साथ उर्बरक कंपनी ग्लोबल उपजवर्धक इंडिया, नई दिल्ली ने अपने एक खास प्रोडक्ट की बिक्री के लिए करार किया। एजेंसी ने प्रोडक्ट के लिए कंपनी को 36.81 लाख का भुगतान किया। कंपनी ने एजेंसी को खाद तो भेज दिया लेकिन मार्केटिंग में सहयोग नहीं किया, जिसका वादा किया गया था। परिवाद में दावा किया गया है कि इस वजह से एजेंसी में माल फंस गया। एजेंसी के मालिक नीरज कुमार निराला ने कहा है कि कंपनी के असहयोग की वजह से उन्हें घाटा हुआ।

बाद में शिकायत करने पर कंपनी ने एजेंसी में फंसा खाद हुआ वापस ले लिया और बदले में 30 लाख का चेक दिया। मालिक ने जब चेक बैंक भेजा तो बाउंस हो गया। इसकी सूचना बार बार देने के बाद भी कंपनी के अधिकारी या रिप्रजेंटेटिव ने ध्यान नहीं दिया। एजेंसी मालिक के अधिवक्ता ने कंपनी को चेक बाउंस हो जाने का लीगल नोटिस भी भेजा पर, दुकानदार को राहत नहीं मिली। थक हारकर नीरज कुमार निराला कोर्ट की शरण में चले गए।

इस केस में नीरज कुमार निराला की ओर से पूर्व क्रिकेट कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के साथ साथ कंपनी के सीईओ राजेश आर्य, स्टेट हेड अजय कुमार, मार्केटिंग हेड अर्पित दूबे, एमडी इमरान जफर, मार्केटिंग मैनेजर वंदना आनंंद और निदेशक महेन्द्र सिंह समेत 8 को अभियुक्त बनाया गया है।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इस प्रोडक्ट का विज्ञापन किया था। इस वजह से नीरज कुमार निराला ने धोनी पर भी मुकदमा दर्ज करवाया है।

वादी नीरज कुमार निराला के अधिवक्ता संजय कुमार ने बताया है कि मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी रुपम कुमारी की कोर्ट में केस दर्ज किया गया है। धारा 406, 120बी आईपीसी और एनआई एक्ट 138 के तहत सभी को अभियुक्त बनाया गया है। न्यायालय ने मामले को स्वीकार करते हुए केस को न्यायिक दंडाधिकारी अजय कुमार मिश्रा के कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया है। अगली सुनवाई के लिए 28 जून की तारीख तय की गई है। केस में महेन्द्र सिंह धोनी का नाम आने से मामला सुर्खियों में है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khanhttps://reportlook.com/
journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here