14.7 C
London
Saturday, June 15, 2024

मध्यप्रदेश: ‘सर तन से जुदा’ का आया मेसेज, रेलवे पटरी पर दो टुकड़ों में मिला निशांक

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

मध्य प्रदेश के रायसेन में एक इंजनीयरिंग स्टूडेंट की मौत पर बना सस्पेंस खत्म नहीं हो रहा है। रविवार को उसकी लाश रेलवे ट्रैक पर दो हिस्सों में कटी मिली। पुलिस शुरुआती जांच में इसे आत्महत्या का केस मान रही हैं, लेकिन मृतक के पिता को घटना से ठीक पहले मोबाइल पर जो मैसेज मिला है उससे मौत पर सस्पेंस बढ़ गया है।

स्टूडेंट के पिता उमाशंकर राठौर को बेटे के मोबाइल से ही मैसेज आया, ”राठौर साहाब आपका बेटा बहुत बहादुर था… गुस्ताख-ए-नबी की एक ही सजा, सर तन से जुदा।” उसके वॉट्सऐप और इंस्टाग्राम पर भी उसके फोटे के साथ इस मैसेज को डीपी में लगाया गया है। पुलिस निशांक को शेयर बाजार में हुए घाटे की बात भी कह ही है और इस एंगल से भी जांच कर रही है। 

रविवार शाम हुई इस घटना के बाद पुलिस ने ट्रेन की टाइमिंग, सीसीटीवी  फुटेज और प्राथमिक पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस इसे आत्महत्या का केस मान रही है। लेकिन उसके पिता का कहना है कि निशांक आत्महत्या नहीं कर सकता है, उसकी हत्या की गई है। 21 साल का निशांक भोपाल के एक इंजीनियरिंग कॉलेज में पांचवें सेमेस्टर का छात्र था। वह मूल रूप से नर्मदापुर के तहसील सिवनी-मालवा का रहने वाला था, जो भोपाल से करीब 120 किलोमीटर दूर है। निशांक यहां बीई की डिग्री लेने आया था।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की जांच के आधार पर कहा है कि रविवार को निशांक ने भोपाल में एक स्कूटर किराये पर लिया और वह निर्मदापुरम की ओर जा रहा ता। लेकिन रास्ते में उसने अपना प्लान बदल लिया और शहर की ओर लौट आया। उसका शव शाम करीब 6 बजे बड़खेड़ा रेलवे स्टेशन के पास रायसेन जिले में पाया गया, जोकि भोपाल और सिवनी मालवा के बीच में है। निशांक की मौत के कुछ मिनटों पहले ही 5.44 पर उसके पिता के मौबाइल पर मैसेज आया। उन्होंने कहा, ”यह फॉरवर्ड किया गया मैसेज नहीं है, बल्कि टाइप करके भेजा गया है।”  

पुलिस ने कहा- ट्रेन से कटकर हुई है मौत
टाइम्स ऑफ इंडिया रायसेन के एएसपी अमृत मीणा के हवाले से बताया है कि निशांक के इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया गया था। उसी समय निशांक के पिता को वॉट्सऐप पर मैसेज आया। अधिकारी ने यह भी कहा है कि उसने अपनने दोस्त को 5.48 पर रिप्लाई किया है। करीब 6.05 पर जीटी एक्सप्रेस वहां से गुजरी। ट्रेन के नीचे आकर उसकी मौत हुई है। 6.13 पर दूसरी लाइन से साई नाथ एक्सप्रेस गुजरी तो उसके लोको पायलट ने पटरी पर लाश देखी और इसकी सूचना दी। एएसपी ने कहा कि निशांक के शरीर पर चोट के निशान नहीं हैं। उसके कमर से ऊपर का हिस्सा और नीचे का हिस्सा दो भागों में कटा है। 

क्रिप्टो करेंसी में घाटा तो वजह नहीं?
वहीं, एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि उन्हें यह भी जानकारी मिली है कि निशांक को क्रिप्टो करेंसी में निवेश किया था, जिसमें शायद उसे घाटा हो गया था। उसे कितना नुकसान हुआ था, यह अभी पता लगाया जा रहा है। वहीं न्यूज एजेंसी वार्ता के मुताबिक पुलिस अधीक्षक विकास शहवाल ने बताया कि प्रारंभिक जांच में मामला आत्महत्या का लग रहा है। छात्र के बारे में जानकारी मिली कि वह शेयर बाजार में निवेश करता था। आशंका है कि उसे घाटा लगा होगा और वह तनाव में आ गया होगा। 

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here