Guna Encounter Case: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के गुना में काले हिरण (Blackbuck) के शिकार की सूचना पर पहुंचे पुलिसकर्मियों पर शिकारियों ने फायरिंग कर दी थी. इस गोलीबारी में एक एसआई समेत 3 पुलिसकर्मी मारे गए थे. अब सूत्रों से पता चला है कि हत्याकांड के आरोपियों ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है.

लेकिन पुलिस आरोपियों को उन्हीं के जवाब में सीधे एनकाउंटर कर रही है. पुलिस ने पहले नौशाद खान (Naushad Khan), फिर शहजाद खान (Shahzad Khan) को भी एनकाउंटर में मार गिराया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) पहले ही कह चुके हैं कि आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई इतिहास बनेगी.

एमपी पुलिस भी उसी नक्शे कदम पर आगे बढ़ रही है. इसलिए गुना मामले में दूसरे आरोपी का भी एनकाउंटर कर दिया गया है. पुलिस ने मुठभेड़ में शहजाद खान भी एनकाउंटर में मार गिराया है. काले हिरण के शिकार मामले में पुलिस की सख्ती के बाद शिकारियों ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है. हालांकि इस मामले में पुलिस की तरफ से कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है. यही वजह है कि शहजाद खान का पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया है.

जंगल में काले हिरण के शिकार की मिली थी पुलिस को सूचना

इससे पहले गुना के आरोन थाना क्षेत्र में सूचना मिली थी कि शहर के कुछ लोग जंगल में काले हिरण का शिकार कर रहे हैं. इसके बाद पुलिस टीम वहां पहुंची तो बदमाशों और पुलिस के बीच में मुठभेड़ शुरू हो गई. इस मुठभेड़ में एसआई राज कुमार जाटव, आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम की गोली लगने से उनकी मौत हो गई. इस घटना में ड्राइवर भी गंभीर रूप से घायल बताया जा रहा है, जिसे जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया. यह घटना शनिवार सुबह तकरीबन 3 से 4 बजे के बीच हुई.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment