[email protected]

बहराइच में लिंचिंग, फातिहा पढ़ कर लौट रहे शाहिद अली पर हुआ जानलेवा हमला

- Advertisement -
- Advertisement -

बहराइच। सालारगंज ईदगाह स्थित कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ने गए थे शाहिद अली, वापिस आते समय दरगाह क्षेत्र के निवासी राहुल यादव, अंकित यादव, विमल यादव, राम जी यादव, कमल यादव तथा चौधरी अपने 30 से 35 सहयोगियों ने हमला बोल दिया।

वहीं ऑटो चालकों का कहना है कि उन्हें भी जगह जगह रोक कर मारा गया है। बहराइच में यादव समुदाय के लोग हिंदू मुस्लिम एकता को खत्म करने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं।

समाजवादी पार्टी के बहराइच जिलाध्यक्ष राम हर्ष यादव लिंचिंग करने वालों के सपोर्ट में हर संभव मदद में लगे हुए हैं। समाजवादी पार्टी के विधायक यासर शाह साहब भी चुप्पी साधे हुए हैं। बीजेपी हो या कोई अन्य पार्टी मुसलमानों की लिंचिंग से किसी को कुछ फर्क नहीं पड़ता, सब मिले हुए हैं, एक जैसे हैं।

मामूली विवाद को कुछ यादव के गुंडे हिंदू मुस्लिम एंगल बनाना चाहते हैं,कई जगह यादव के गुंडों ने ऑटो चालकों को मारा है, ऑटो वालों ने बताया कि नाम पूछते हैं और जब नाम उर्दू वाला होता है तो उसकी लिंचिंग करने की पूरी कोशिश करते हैं।

समाजवादी पार्टी धीरे धीरे बीजेपी के नक्शे कदम पर चलने लगी है, जिस तरह से बीजेपी नेता लिंचिंग करने वालों की मदद करते हैं उसी तरह समाजवादी पार्टी के नेता भी कर रहें हैं।अफसोस इस बात की है कि विधायक यासर शाह साहब भी चुप हैं। क्या मजबूरी हो सकती है ?

AIMIM के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली साहब ने एफआईआर करवा कर कार्रवाई की मांग की है।

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×