14.1 C
Delhi
Friday, December 2, 2022
No menu items!

नॉर्थ कोरिया में हंसने, जोर जोर से रोने और शॉपिंग करने पर 11 दिनों तक लगाई गई रोक

- Advertisement -
- Advertisement -

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने अपने पिता और देश के पूर्व तानाशाह किम जोंग-इल की 10वीं बरसी पर तुगलकी फरमान जारी किया। इसमें लोगों के हंसने, शॉपिंग करने और शराब पीने पर रोक लगा दी गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, किम ने 11 दिन तक के लिए देश में राष्ट्रीय शोक घोषित किया है।

रेडियो फ्री एशिया ने नॉर्थ कोरिया में सिनुइजु शहर के लोगों से बातचीत की। उन्होंने बताया- अब आम लोग रोजमर्रा के जरूरी सामान खरीदने भी बाहर नहीं जा सकते। अगर कोई नियम तोड़ता है उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।https://googleads.g.doubleclick.net/pagead/ads?client=ca-pub-8540104239820909&output=html&h=312&slotname=3865631679&adk=3757635151&adf=3401031583&pi=t.ma~as.3865631679&w=375&lmt=1639838889&rafmt=1&psa=0&format=375×312&url=https%3A%2F%2Fwww.navyugsandesh.com%2F11-days-ban-on-laughing-crying-out-loud-and-shopping-in-north-korea%2F%3Futm_source%3DJioNews%26utm_medium%3Dreferral%26utm_campaign%3DJioNews&flash=0&fwr=1&fwrattr=true&rpe=1&resp_fmts=3&sfro=1&wgl=1&dt=1639838889107&bpp=1&bdt=1353&idt=286&shv=r20211207&mjsv=m202112060101&ptt=9&saldr=aa&abxe=1&prev_fmts=0x0%2C375x312%2C375x312%2C375x312&nras=1&correlator=1064268106508&frm=20&pv=1&ga_vid=1331628482.1639838889&ga_sid=1639838889&ga_hid=1504743928&ga_fc=1&u_tz=330&u_his=1&u_h=812&u_w=375&u_ah=812&u_aw=375&u_cd=32&u_sd=2&adx=0&ady=1934&biw=375&bih=683&scr_x=0&scr_y=0&eid=44753739%2C31063332%2C31063793%2C31063859&oid=2&pvsid=3840902180532071&pem=883&tmod=24&ref=https%3A%2F%2Fjionews.com%2F&eae=0&fc=1920&brdim=0%2C0%2C0%2C0%2C375%2C0%2C375%2C683%2C375%2C683&vis=1&rsz=%7C%7CeEbr%7C&abl=CS&pfx=0&fu=128&bc=31&ifi=5&uci=a!5&btvi=3&fsb=1&xpc=Rsbs2sByGv&p=https%3A//www.navyugsandesh.com&dtd=288

- Advertisement -

पहले भी जो लोग किम जोंग-इल की बरसी पर नशे में पाए जाते थे, उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाता था। इनमें से ज्यादातर की बाद में कोई खबर नहीं मिलती थी।

प्रतिबंध के 11 दिन के दौरान अगर किसी की मौत हो जाती है तो उसका परिवार जोर से रो भी नहीं सकता। शोक के अवधि पूरी होने के बाद ही लाश को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया जा सकता है। इन 11 दिनों मेंअगर किसी का जन्मदिन आता है तो वो इसे सेलिब्रेट नहीं कर सकेगा।

ह्वांगहो प्रांत के एक निवासी ने कहा- पुलिस से लोगों पर पैनी नजर रखने के लिए कहा गया है। अगर कोई नियम तोड़ता है उसे फौरन गिरफ्तार कर लिया जाएगा। दिसंबर के पहले दिन से ही शोक के दौरान लोग जुट नहीं सकेंगे। इसके लिए पुलिस की महीने भर की स्पेशल ड्यूटी लगाई गई है। इस दौरान पुलिस अफसर नींद भी नहीं ले पाएंगे।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here