केरल के अलाप्पुझा जिले में दो राजनीतिक हत्याओं के कारण तनाव पैदा हो गया है। अलाप्पुझा में रविवार सुबहभाजपा के एक नेता की उनके घर में घुसकर हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान रंजीत श्रीनिवासन के रूप में हुई है और वह भाजपा ओबीसी मोर्चा के राज्य सचिव थे। इसके पहले, अलाप्पुझा जिले में ही सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया के एक नेता की हत्या कर दी गई।

पुलिस ने बताया कि भाजपा ओबीसी मोर्चा के राज्य सचिव एडवोकेट रंजीत श्रीनिवास पर अलाप्पुझा सिटी स्थित उनके घर पर सुबह हमला किया गया। जब वह मॉर्निंग वॉक के लिए तैयार हो रहे थे तभी हमलावर उनके घर में घुसे और भाजपा नेता की बेरहमी से पिटाई कर दी, जिसके बाद भाजपा नेता ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। रंजीत श्रीनिवास ने हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान बीजेपी उम्मीदवार के तौर पर इलेक्शन लड़ा था। वह पेशे से एक वकील थे।

सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया के सचिव केएस शान पर भी शनिवार को इसी तरह का एक हमला किया गया था जब वह बाइक से जा रहे थे। उन्हें एक कार ने टक्कर मार दी थी। इसके बाद हमलावर कार से बाहर आए और केएस शान की बुरी तरह पिटाई कर दी थी। हमले में घायल केएस शान को अलाप्पुझा के एक स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया। इसके बाद कोच्चि के एक अस्पताल में रेफर किया गया, जहां उनकी मौत हो गई।

12 घंटे के अंदर जिले में दो नेताओं की हत्याओं के बाद तनाव पैदा हो गया है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अलाप्पुझा में धारा 144 लागू कर दी गई है। भाजपा ओबीसी मोर्चा के राज्य सचिव एडवोकेट रंजीत श्रीनिवास और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया के सचिव केएस शान की हत्या की सीएम पिनराई विजयन ने निंदा की है।

पिछले दिनों, केरल के पथनमथिट्टा के पास पेरिंगरा में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के एक स्थानीय सचिव की हत्या कर दी गई थी। वहीं, पलक्कड़ जिले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक कार्यकर्ता की हत्या का मामला भी सामने आया था।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment