Balloons float past an Indian national flag during the Republic Day parade in New Delhi, India, on Wednesday, Jan. 26, 2022. India has bounced back strongly from the pandemic and stands poised to claim the mantle of fastest-growing economy in 2021 and probably 2022 as well. Photographer: T. Narayan/Bloomberg via Getty Images

बेंगलुरू: भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता और कर्नाटक के ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज मंत्री के एस ईश्वरप्पा (KS Eshwarappa)  ने बुधवार को दावा किया कि भगवा झंडा (Saffron Flag) भविष्य में कभी राष्ट्रीय ध्वज बन सकता है। हालांकि, उन्होंने कहा कि तिरंगा (Tiranga) अभी राष्ट्रीय ध्वज है और इसका सभी को सम्मान करना चाहिए। ईश्वरप्पा ने कहा, ‘‘सैकड़ों साल पहले श्री रामचंद्र और मारुति के रथों पर भगवा झंडे थे। क्या तब हमारे देश में तिरंगा झंडा था? अब यह (तिरंगा) हमारे राष्ट्रीय ध्वज के रूप में निर्धारित है। इस देश का भोजन ग्रहण करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को इसका सम्मान करना चाहिए। इस पर कोई सवाल ही नहीं उठता है।’’

पत्रकारों के एक सवाल पर कि क्या लाल किले पर भगवा झंडा फहराया जा सकता है, उन्होंने कहा, ‘‘आज नहीं, भविष्य में किसी दिन।’’ उन्होंने कहा, ‘‘देश में आज हिंदू विचार और हिंदुत्व की चर्चा हो रही है। एक समय लोग हंसते थे जब हम कहते थे कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा, क्या हम इसे अभी नहीं बना रहे हैं? इसी प्रकार भविष्य में किसी समय 100 या 200 अथवा 500 वर्षों के बाद भगवा ध्वज राष्ट्रीय ध्वज बन सकता है।

कर्नाटक बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि अब तिरंगे को संवैधानिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज के रूप में स्वीकार कर लिया गया है। मंत्री ने कहा कि इसका सम्मान किया जाना चाहिए और जो इसका सम्मान नहीं करते हैं वे देशद्रोही होंगे।

ईश्वरप्पा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डी के शिवकुमार के दावों का जवाब दे रहे थे कि छात्रों ने मंगलवार को हिजाब के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान शिवमोगा के एक कॉलेज में तिरंगा की जगह भगवा झंडा फहराया। शिवकुमार के दावों को ‘झूठा’ बताते हुए ईश्वरप्पा ने इसे हिंदुओं और मुसलमानों के बीच विभाजन पैदा करने का प्रयास बताया।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment