पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के दिग्गज नेता बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक में बढ़ती सांप्रदायिकता पर चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि मुस्लिमों को सम्मान और शांति के साथ जीने दिया जाए। येदियुरप्पा से पहले कर्नाटक में बीजेपी के दो नेता भी इस पर सवाल उठा चुके हैं। हिंदू संगठनों की तरफ से कर्नाटक में मुसलमानों और उनके व्यवसायों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियानों को लेकर सरकार लगातार विपक्षी पार्टियों के निशाने पर है।

धारवाड़ में मंदिरों के सामने मुस्लिमों के फलों के ठेले तोड़ने के आरोप में श्रीराम सेना से जुड़े सदस्यों की गिरफ्तारी के बाद बीजेपी के दिग्गज नेता बीएस येदियुरप्पा ने हिंदू संगठनों से आग्रह करते हुए कहा कि वे ऐसी हरकतें ना करें और मुसलमानों को शांति और सम्मान के साथ जीने दें। उन्होंने सोमवार (11 अप्रैल) को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि मेरी इच्छा है कि हिंदू और मुसलमान ऐसे रहें जैसे एक मां के दो बच्चे साथ-साथ रहते हैं।

कर्नाटक में लव जिहाद के मुकाबले लव केसरी का नया नारा
कर्नाटक में हिजाब विवाद के बाद लव जिहाद को लेकर आवाजें उठने लगी हैं। कथित रूप से लव जिहाद के मुकाबले में लव केसरी का नारा आ गया है। राज्य के कुछ नेताओं ने युवकों से कहा है कि वे लव जिहाद से मुकाबले के लिए लव केसरी में शामिल हो जाएं। श्री राम सेना के नेता राजचंद्र रामनगौड़ा ने रविवार (10 अप्रैल) को युवकों से कहा कि वे इस काम के लिए आगे आएं। इस मामले में कार्रवाई करते हुए उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया है। उन पर भारतीय दंड संहिता के तहत दंगा करने के इरादे से उकसाने, धर्म, नस्ल पर हमला करने या धार्मिक भावनाओं को आहत करने के मकसद से जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कार्य करने के आरोप लगाए गए हैं।

श्री राम सेना के नेता ने अपने भाषण में कहा कि हमें अपनी सभी लड़कियों को संदेश देना चाहिए कि अगर कोई मुसलमान किसी हिंदू महिला को परेशान करता है, तो हम वहां हैं, हमारे भाई हैं, हमारे पास आओ। हमें अपनी तलवारें सिर्फ दिखानी नहीं चाहिए इनका इस्तेमाल भी करना चाहिए। इनका इस्तेमाल उन पुरुषों पर करना चाहिए जो हिंदू लड़कियों और महिलाओं को निशाना बनाते हैं। अपने धर्म की रक्षा करें।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment