7.8 C
London
Saturday, April 20, 2024

Kareena Kapoor का खुलासा, बोलीं- ‘बेटे तैमूर और जहांगीर के नाम को लेकर ट्रोल किया तो डर गई थी…’

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर खान का कहना है कि जब उन्हें अपने बेटों तैमूर और जहांगीर का नाम रखने के लिए ट्रोल किया गया तो उन्हें ‘डर’ महसूस हुआ था। द गार्जियन के साथ हाल ही में एक साक्षात्कार में 40 वर्षीय अभिनेत्री ने अपनी गर्भावस्था के चरण, उनकी नई किताब ”करीना कपूर खान प्रेग्नेंसी बाइबल” और अपने बच्चों के नामों को लेकर सोशल मीडिया पर आलोचना (ट्रोलिंग) को लेकर बात की।

अभिनेता सैफ अली खान और करीना कपूर के दूसरे बेटे का जन्म इस साल 21 फरवरी को हुआ था। दंपति की उनके बच्चों के नाम को लेकर सोशल मीडिया पर खासी आलोचना हुई थी। करीना ने ”जबरदस्त तरीके” से ट्रोल किए जाने का जिक्र करते हुए कहा कि ये वे नाम हैं जो उन्हें पसंद थे और इससे ज्यादा कुछ नहीं है।

करीना ने ब्रिटिश अखबार से कहा, ” ईमानदारी से, यह वो नाम हैं जो हमें पसंद थे, इसके अलावा कुछ नहीं। ये सुंदर नाम हैं और वे सुंदर बच्चे हैं। यह समझ से परे है कि कोई बच्चों को ट्रोल क्यों करेगा? मैं इसे लेकर डर महसूस कर रही थी लेकिन मैने इससे अपना ध्यान हटाया और इससे पार पा सकी। मैं ट्रोल करने वालों के नजरिए से अपने जीवन को नहीं देख सकती।”

इस जोड़ी ने 2016 में पैदा हुए अपने पहले बच्चे तैमूर के नाम का मीडिया के सामने खुलासा किया था, हालांकि जब उनके दूसरे बच्चे की बात आई तो उन्होंने ऐसा करने से परहेज किया। करीना और सैफ के दूसरे बेटे जहांगीर का नाम, जिसे जेह भी कहा जाता है, सोशल मीडिया पर तब सामने आया जब उनकी हालिया किताब का विमोचन हुआ।करीना ने बॉलीवुड में समान भुगतान और भाई-भतीजावाद को लेकर कभी ना समाप्त होने वाली बहस पर भी चर्चा की।

समान भुगतान के विषय पर करीना ने कहा कि बॉलीवुड में कई अभिनेत्रियों ने एक फिल्म के लिए अभिनेता के समान भुगतान के लिए आवाज उठानी शुरू की है। उन्होंने कहा कि यह इससे कहीं बढ़कर सम्मान दिए जाने की बात है और महिलाओं को सम्मान दिया जाना चाहिए। अभिनेत्री ने कहा कि उन्हें लगता है कि चीजों में बदलाव आ रहा है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here