11 C
London
Tuesday, April 16, 2024

झारखंड: जुमे की नमाज के लिए बंद नहीं किया स्कूल तो जमकर मचा बवाल, गांव वालो स्कूल को जड़ा ताला

ग्रामीणों का गुस्सा इस बात को लेकर था कि शुक्रवार को क्यों स्कूल खोला गया. जुमे की नमाज के लिए स्कूल शुक्रवार को बंद रखा जाए और रविवार को खोला जाए.

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

जामताड़ा. झारखंड के जामताड़ा के करमाटांड़ में जुमे की नमाज के लिए जबरदस्ती हाईस्कूल को बंद कराया गया. ग्रामीणों ने बीते शुक्रवार को उत्क्रमित उच्च विद्यालय बिराजपुर परिसर में जमकर हंगामा किया और शिक्षकों पर मनमानी करने का आरोप लगाते हुए स्कूल में ताला जड़ दिया. ग्रामीणों का गुस्सा इस बात को लेकर था कि शुक्रवार को क्यों स्कूल खोला गया. जुमे की नमाज के लिए स्कूल शुक्रवार को बंद रखा जाए और रविवार को खोला जाए.

अपनी मांग को लेकर ग्रामीणों ने सुबह 8:00 बजेविद्यालय में ताला जड़ दिया और विरोध-प्रदर्शन किया. ग्रामीणों का कहना है कि शुक्रवार को विद्यालय बंद रहता है एवं रविवार को खुला रहता है. परंतु प्रधानाध्यापक एवं कुछ शिक्षकों के द्वारा मनमानी करते हुए शुक्रवार को विद्यालय खोला जा रहा है, जबकि मुस्लिम बहुल गांव होने के कारण यहां के बच्चे जुमे की नमाज पढ़ने जाते हैं. इसलिए शुक्रवार को स्कूल बंद रहती है.

विद्यालय के सचिव देवनारायण मंडल ने बताया कि विभागीय निर्देश के अनुसार शुक्रवार को विद्यालय खोलने का आदेश आया है. जिसके तहत विद्यालय खोला जा रहा है. इसमें कही कोई मनमानी की बात नहीं है.

सीआरपी मकसूद अंसारी ने बताया कि विभाग से शुक्रवार को स्कूल खोलने की सूचना मिली थी, परंतु पत्र भेजकर प्रत्येक विद्यालय को सूचित किया गया है कि पहले की तरह विद्यालय संचालित किया जाए. फिर भी शिक्षकों ने मनमानी किया है तो उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी.

जिला शिक्षा पदाधिकारी अभय शंकर ने कहा कि सरकारी निर्देश के अनुसार ऊर्दू विद्यालयों को शुक्रवार को बंद रखने का प्रावधान है. जबकि हाईस्कूल रविवार को ही बंद रहते हैं. विराजपुर हाईस्कूल में शुक्रवार को की गई तालाबंदी पर विद्यालय प्रबंधन समिति से जवाब मांगा गया है. विद्यालय कब बंद करना है इस पर सोमवार को विद्यालय प्रबंधन समिति की बैठक में निर्णय लेने को कहा गया है.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here