[email protected]

जैन साध्वी महासती ज्ञानलता का महाप्रयाण:नागौर में चल रहे चातुर्मास के दौरान 4 दिन पहले बिगड़ गई थी तबीयत; देशभर के अनुयायियों में छाया शोक

- Advertisement -
- Advertisement -

महासती जैन समाज की साध्वी महासती ज्ञानलता का मंगलवार को देवलोकगमन हो गया। दोपहर में करीब सवा बारह बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। 68 साल की जैन साध्वी महासती ज्ञानलता नागौर जिले के थांवला में अपने चातुर्मास के लिए आई हुई थी और यहां 4 दिन पहले उनकी तबीयत बिगड़ गई थी। इसके बाद आज उन्होंने यहीं आखिरी सांस ली।

श्री वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ विजयनगर ने जानकारी देते हुए बताया है कि अब आज शाम साढ़े 4 बजे श्री जैन स्थानक भवन थांवला से जैन साध्वी महासती ज्ञानलता की महाप्रयाण यात्रा निकाली जाएगी। कोरोना गाइडलाइन को देखते हुए अनुयायियों से महाप्रयाण यात्रा में भीड़भाड़ नहीं करने की अपील की गई है।

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×