नौतनवा कस्बे के बाल्मीकि नगर में हजरत ख्वाजा उस्मान हारुनी के उर्स एवं फातिहा चेहल्लुम के मौके पर आयोजित एक कॉन्फ्रेंस में शिरकत करने पहुंचे हजरत सैयद हसन कमाल अशरफ ने कहा कि मोहब्बत सभी से नफरत किसी से भी नहीं।

उन्होंने कहा कि इस्लाम दुनिया में आया ही है अमन एव शांति का पैगाम लेकर। इस्लाम का मानने वाला अपने से कमजोर की मदद करके ही अल्लाह ताला के नजदीक रह सकता है।

उन्होंने कहा कि अपने से कमजोर की मदद करना ही इस्लाम है ना कि उस पर जुल्म करना। ऊंच-नीच व धर्म-जाति से हटकर एक इंसान बनना होगा तभी मुल्क तरक्की की राह पर आला मुकाम हासिल कर सकता है। मौलाना बरकत द्वारा संचालित इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से सय्यद इफ्तेखार हुसैन, मौलाना सैय्यद अबरार अहमद, ऑल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड महराजगंज के जिलाध्यक्ष मौलाना बरकत हुसैन मिस्बाही, पूर्व विधायक मुन्ना सिंह, चेयरमैन गुड्डू शमीम अशरफी, अमित त्रिपाठी, व्यापारी नेता संतोष जायसवाल, मनउवर हुसैन अशरफी, कारी वजूद आलम, फिरोज, खान बदरे आलम, शाहनवाज खान, अजय जायसवाल, महबूब आलम, जहीर अंसारी, बबलू अंसारी, सलीम खान, मुमताज अहमद, रफीक अंसारी, सैयद जहीर अहमद, नदीम अहमद अब्बासी, इमरान अहमद, सैयद अफजाल अहमद, सैयद बेलाल अहमद, सैयद वहाज अहमद, वसीम अहमद, सूरज खान सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment