9.6 C
London
Sunday, April 21, 2024

क्या Cadbury की Dairy Milk चॉकलेट में होता है बीफ? कंपनी ने खुद दिया जवाब

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

Cadbury Dairy Milk: शायद ही ऐसा कोई हो जिसे चॉकलेट खाना न पसंद हो। बच्चा हो या बुजुर्ग चॉकलेट तो सबकी फेवरेट होती है। देश विदेश में वैसे तो कई कंपनियों की चॉकलेट बिकती हैं, लेकिन किफायती और जुबान को जायका देने वाली कैडबरी की चॉकलेट (Cadbury Dairy Milk Chocolate) की बात ही कुछ और है। लेकिन इस बीच कुछ ऐसा हुआ है, जिसके चलते सोशल मीडिया यूजर्स कंपनी पर बुरी तरह भड़क गए हैं। दरअसल, सोशल मीडिया पर कैडबरी की चॉकलेट में बीफ का अंश होने को लेकर चर्चा जोरों पर है। जी हां, बीते दिनों सोशल मीडिया पर ऐसा दावा किया गया था कि कैडबरी अपने कई प्रोडक्ट्स में जिलेटिन का इस्तेमाल करते हैं। कंपनी ने खुद यह बात कही कि इसमें हलाल मीट का इस्तेमाल किया जाता है। ये देखने के बाद शाकाहारी (Vegetarian) खासतौर से भारतीय यूजर्स भड़क उठे और कंपनी पर सवालों की बौछारें होने लगीं।

क्या कैडबरी की चॉकलेट में होता है बीफ? ऐसे में अब सवाल यह है कि क्या आप भी कैडबरी की चॉकलेट में बीफ खा रहे हैं। इन सब सवालों से घिरी कंपनी ने अब इस पर अपना पक्ष रखा है। कैडबरी इंडिया (@DairyMilkIn) ने ट्वीट कर मामले में अपनी सफाई देते हुए कहा कि भारत में बनने और बिकने वाले उसके सभी प्रोडक्ट 100 फीसदी वेज होते हैं।

कंपनी ने जारी किया ये बयान कैडबरी इंडिया ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि ट्वीट में जो जो स्क्रीन शॉट शेयर किया जा रहा है, वह भारत में बने Mondelez/Cadbury इंडिया के उत्पादों के बारे में नहीं है। भारत में बनने और बिकने वाले सभी प्रोडक्ट्स 100 फीसदी शाकाहारी होते हैं। जिसकी पुष्टि रैपर्स पर बने हरे डॉट करते हैं। इसके साथ ही कंपनी ने यह भी कहा कि इस तरह की जानकारी शेयर करने से पहले तथ्यों को पूरी तरह से जांच लेना चाहिए।

जानें क्या है पूरा मामला? दरअसल, सोशल मीडिया पर बीते दिनों एक स्क्रीन शॉट शेयर कर यह दावा किया गया था कि Cadbury अपने कई उत्पादों में हलाल मीट का इस्तेमाल करती है। यह पूरा मामला ऑस्ट्रेलिया का था। कैडबरी ऑस्ट्रेलिया ने बताया था कि उसके प्रोडक्ट्स में जो बीफ का यूज किया जाता है, वह हलाल मीट होता है। इसके बाद से हिंदू ग्राहक कैडबरी पर बुरी तरह भड़क गए और सवाल खड़ा हो गया कि क्या अन्य देशों में भी कैडबरी के प्रोडक्ट में बीफ का इस्तेमाल किया जाता है। खैर, अब कंपनी ने खुद ही इसकी जानकारी दे दी है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here