अविश्वास प्रस्ताव से ठीक एक दिन पहले इमरान खान ने अपने देश के सुप्रीम कोर्ट के फैसले की आलोचना की। विदेशी साजिश को न मानने वाले फैसले पर नाखुशी जताई। अपने संबोधन में इमरान खान ने हिन्दुस्तान की तारीफ भी की। मोदी सरकार की तारीफ करते हुए इमरान भावुक भी हुए। कहा कि वहां बहुत खुद्दार लोग हैं। वहां किसी बाहरी देश की हिम्मत नहीं है कि कोई आदेश दे दे। यहां इमरान खान के कहने का मतलब रूस के साथ भारत के संबंधों पर अमेरिका के स्टैंड पर था। इमरान ने कहा कि मैंने रूस का दौरा किया तो वो भड़क गया लेकिन हिन्दुस्तान को कुछ नहीं बोला। अपनी बात रखते हुए इमरान ने आरएसएस का भी जिक्र किया।

देश के नाम अपने संबोधन इमरान खान ने भारत का जिक्र किया। अविश्वास प्रस्ताव से पहले आखिरी दांव खेलते हुए वो भावुक भी दिखे। संबोधन में अपनी कुर्सी गंवाने का डर उनके चेहरे पर साफ देखा जा सकता था। इमरान ने कहा कि भारत की विदेश नीति बहुत आजाद है। किसी भी देश की हिम्मत नहीं है कि वो भारत को आदेश दे सके। भारत की सरकार बहुत खुद्दार है। मैं भी पाकिस्तान की विदेश नीति को आजाद करना चाहता हूं और जब तक सरकार में हूं कोशिश करता रहूंगा कि हमारी विदेश नीति हमेशा आजाद रहे।

आरएसएस का किया जिक्र
इमरान खान ने अपने संबोधन में आरएसएस का जिक्र भी किया। कहा कि मेरे हिन्दुस्तान की सरकार के साथ रिश्ते सिर्फ आरएसएस की वजह से बिगड़े, नहीं तो हमारे अपने पड़ोसी मुल्कों के साथ बहुत अच्छे संबंध रहे हैं।

अमेरिका पर फिर बरसे इमरान
मोदी सरकार का उल्लेख करते हुए इमरान खान ने कहा कि अमेरिका की इतनी हिम्मत नहीं है कि उन्हें कुछ बोले। जबकि वो रूस से तेल खरीद रहे हैं। लेकिन, मैं रूस क्या गया? अमेरिका ने मेरी सरकार गिराने की साजिश रच ली। विपक्षी दल उन विदेशी ताकतों के आगे नतमस्तक हो गए लेकिन, मैं अल्लाह के अलावा कभी किसी के आगे नहीं झुका। हम और हिन्दुस्तान एक ही दिन आजाद हुए थे लेकिन आज दोनों देशों में कितना फर्क है। मैं सरकार में इसीलिए आया कि अपने मुल्क को दुनिया के सामने ऊपर लाऊं।

फौज लोकतंत्र की रक्षा नहीं कर सकता
इमरान खान ने पाकिस्तान आर्मी पर भी बात की। कहा कि देश की आर्मी लोकतंत्र की रक्षा नहीं कर सकती है। अब वक्त आ गया है कि कौम को खुद लोकतंत्र की रक्षा करनी है।

मुझे निकालने के लिए हो रहा पूरा ड्रामा
इमरान खान ने कहा कि विपक्षी पार्टियों और अमेरिका की ओर से किया जा रहा पूरा ड्रामा सिर्फ और सिर्फ मुझे निकालने के लिए हो रहा है। इन लोगों को पता है कि यह आदमी पुतला बनने वाला नहीं है। मैंने पाकिस्तान की जनता के लिए हमेशा आंदोलन किया है। उन्हें पता है कि मेरी बाहर कोई जायदाद नहीं है। इसलिए ऐसी साजिश रची जा रही है।

भेड़-बकरियों की तरह बिक रहे हैं सांसद
अपने संबोधन में इमरान खान ने कहा कि आज पाकिस्तान बहुत बुरा वक्त देख रहा है। भेड़-बकरियों की तरह सांसद बिक रहे हैं। आज हमारे जन प्रतिनिधि अपना जमीर बेच रहे हैं। लेकिन मैं अपनी कौम की बारे में सोचता हूं।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment